पारिवारिक कारणों से बहु को पति, देवर एवं सास-ससुर ने जिंदा जलाकर मार डाला

सीहोर २ नवंबर ;अभी तक; पारिवारिक कारणों से बहु को पति, देवर एवं सास-ससुर ने जिंदा जलाकर मार डाला, सभी को आजीवन कारावास की सजा । 

           जिला अभियोजन अधिकारी सुश्री निर्मला सिंह चौधरी ने बताया कि  घटना दिनांक-02/04/2018 ग्राम-गऊखेड़ी थाना इछावर की है दिनांक-02/04/2018 को प्रात:09:30 बजे इछावर थाने पर सूचना मिली एक महिला जली अवस्था में लाई गई है। थाना इछावर की पुलिस अस्पताल पहुंची और गंभीर अवस्था में घायल पीड़िता के बयान लिये तो पीड़िता ने बताया की मेरी शादी सुरेन्द्र सिंह मेवाड़ा निवासी-गऊखेड़ी से हुई। दिनांक-02/04/2018 को सुबह 08:00 बजे की बात है मेरा देवर विनोद सिंह मेवाड़ा बहस करके अभद्र व्यवहार एवं लड़ाई-झगड़ा करने लगा मैने मना किया तो मेरे पति सुरेन्द्र सिंह मेवाड़ा, ससुर गप्पू सिंह मेवाड़ा तथा सास-सुगनबाई रसोईघर में आ गये और पारिवारिक कारणों से लड़ने लगे तू जवान बहुत चलाती है आज तुझे सबक सीखा देगे और सभी गाली-गलौच करने लगे। मेरे पति सुरेन्द्र सिंह मेवाड़ा ने मुझे पकड़ लिया देवर विनोद सिंह मेवाड़ा ने घासलेट की चिमनी से घासलेट मेरे शरीर पर डाल दिया। मेरी सास-ससुर ने कहा की इसको आग लगा दो। मेरे पति ने माचिस से आग लगा दी। मेरे देवर ने मुझे पकड़ रखा था सास-ससुर ने चिल्लाकर कहा आज इसको जला दो मैं छूटकर चलती हुई घर की पिछली खिड़की से कूदकर पास में रहने वाले पड़ोसी डूलीचंद मेवाड़ा के घर में घुस गई। डूलीचंद मेवाड़ा के परिवार की महिलाओं ने मेरे ऊपर पानी डाला व दूध पिलाया और गांववालो ने पुलिस को खबर की ससुरालवाले ही मुझे अस्पताल लाये। मेरे पति, देवर एवं सास-ससुर ने मिलकर जान से मारने की नियत से जला दिया।

घायल पीड़िता के बयानो के आधार पर थाना इछावर में धारा-307, 34 भादवि का मामला दर्ज किया गया। इलाज के दौरान पीड़िता का पूरा शरीर 80-85% जल  गया। पूरे कपड़े भी जल गये थे। पीड़िता ने तहसीलदार एवं परिजन को भी बयान दिया की ससुरालवालो ने जलाया है। पीड़िता को चिरायु अस्पताल में भर्ती किया गया दिनांक-13/04/2018 को उसकी मृत्यु हो गई। थाना इछावर पुलिस ने धारा-302 भादवि में 1. सुरेन्द्र सिंह मेवाड़ा पिता गप्पू सिंह मेवाड़ा(पति) 2. विनोद सिंह मेवाड़ा पिता गप्पू सिंह मेवाड़ा(देवर) 3. गप्पू सिंह मेवाड़ा पिता फूंदीलाल(ससुर) 4.सुगनबाई पति गप्पू सिंह मेवाड़ा(सास कोरोना से जेल में मृत) सर्व निवासीगण- ग्राम गउखेड़ी तहसील- इछावर जिला सीहोर के विरुध्द अपराध पंजीबध्द कर विवेचना उपरांत अभियोग पत्र माननीय न्यायालय के समक्ष प्रस्तुत किया गया।

आज दिनांक-02/11/2020 को अभियोजन के तर्क से सहमत होकर श्रीमान् राजवर्धन गुप्ता, जिला एवं सत्र न्यायाधीश महोदय द्वारा पुलिस थाना इछावर के सत्र प्रकरण क्रं-147/2018 के आरोपीगण 1. सुरेन्द्र सिंह मेवाड़ा पिता गप्पू सिंह मेवाड़ा(पति) 2. विनोद सिंह मेवाड़ा पिता गप्पू सिंह मेवाड़ा(देवर) 3. गप्पू सिंह मेवाड़ा पिता फूंदीलाल(ससुर) 4.सुगनबाई पति गप्पू सिंह मेवाड़ा(सास कोरोना से जेल में मृत) सर्व निवासीगण- ग्राम गउखेड़ी तहसील- इछावर जिला सीहोर (म.प्र.) को दोषी पाते हुये धारा-302 भादवि में आजीवन कारावास एवं प्रत्येक को 5,000/- रुपये के अर्थदण्ड से दण्डित किया गया।

प्रकरण में अभियोजन की ओर से पैरवी सुश्री निर्मला सिंह चौधरी, जिला अभियोजन अधिकारी, जिला-सीहोर द्वारा की गई।

Related Articles

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *