पुण्य सम्राट जयंत सेन सुरीश्वर महाराज साहब के जन्मोत्सव पर निशुल्क स्वास्थ्य शिविर का हुआ आयोजन

6:30 pm or November 20, 2022

महावीर अग्रवाल

मंदसौर २०नोवेम्बर ;अभी तक;  परम पूज्य पुण्य सम्राट राष्ट्रसंत आचार्य देवेश श्रीमद् विजय जयंतसेन सुरिश्वर जी महाराज साहब के 87 के जन्मोत्सव के उपलक्ष पर दो दिवसीय पावन कार्यक्रम के अंतर्गत 20 नवंबर रविवार को निशुल्क आयुर्वेदिक शिविर का आयोजन मानव सेवा के अंतर्गत अखिल भारतीय श्री राजेंद्र जैन नवयुवक व तरुण परिषद के तत्वावधान में आयोजित किया गया।

जिसमें  इंदौर के प्रसिद्ध आयुष चिकित्सक डॉ. पीयूष रुनवाल द्वारा अपनी सेवाएं दी गई। कार्यक्रम की आरम्भ में कार्यक्रम के मुख्य अतिथि के रूप में अखिल भारतीय श्री राजेंद्र नवयुवक परिषद के राष्ट्रीय महामंत्री सुधीर लोढ़ा, श्री त्रिस्तुतिक श्री संघ के सचिव अशोक खाबिया, श्री संघ के वरिष्ठ मनोहर सोनगरा, राजेंद्र जैन नवयुवक परिषद के अध्यक्ष अजय फाफरिया तरुण परिषद के अध्यक्ष रत्नेश पारख मंचासीन थे। सर्वप्रथम पुण्य सम्राट के चित्र पर माल्यार्पण व दिप प्रज्जवलन कर इस कार्यक्रम की शुरुआत की। शिविर में 123 लोगों ने अपने स्वास्थ्य का परीक्षण कर स्वास्थ्य लाभ लिया।

शिविर में डॉ, रुनवाल ने बताया कि निरोगी काया स्वस्थ शरीर आयुर्वेद का मूलमंत्र है। पश्चात इस अवसर पर नवयुवक परिषद के राष्ट्रीय महामंत्री सुधीर लोढ़ा ने कहा कि हमारी आस्था के आयाम पुण्य सम्राट जयंत सुरीश्वर जी महाराज साहब का 87 वा जन्मोत्सव है जिसमें मंदसौर शाखा ने जो मानव सेवा के अंतर्गत आयुर्वेदिक शिविर का आयोजन किया है वह सराहनीय है। श्री संघ के सचिव अशोक खबिया ने भी इस अवसर पर गुरुदेव के जन्मोत्सव पर सभी को बधाई प्रेषित करें वह नवयुवक परिषद तरुण परिषद ने जो शिविर का आयोजन किया है की सराहना की। श्री संघ के वरिष्ठ मनोहर सोनगरा ने कहां की आयुर्वेदिक से किसी भी प्रकार की बीमारी का जड़ से समाप्त करने का एक अनूठा नुस्खा है जो पुरानी संस्कृति में सर्वप्रथम नुस्का माना जाता था।

नवयुवक परिषद के अध्यक्ष अजय फाफरिया ने कहा कि पुण्य सम्राट के जन्मोत्सव पर 2 दिवसीय कार्यक्रम का आयोजन किया जा रहा है। जिसमें निशुल्क शिविर का आयोजन रात्रि में प्रभु भक्ति का आयोजन गुरुदेव के अभिषेक का आयोजन वह अनेक आयोजन जीव दया व मानव सेवा के अंतर्गत किए जाएंगे। तरुण परिषद के अध्यक्ष रत्नेश पारख ने कहा कि कि जो हम जैसा देते हैं वैसा फल हमें प्राप्त होता है जैसे कि अगर किसी भूखे को हमने भोजन कराया तो उसकी पुण्याई हमें लगती है किसी दुखी जन या मरीज की हम सहायता करें तो हमें अंतरात्मा से प्रसन्नता की अनुभूति होती है।

इसमें कार्यक्रम का संचालन सह कोषाध्यक्ष जयेश डांगी ने किया  अंत में आभार नवयुवक परिषद के महामंत्री कमलेश सालेचा ने माना। कार्यक्रम में राजेंद्र जैन नवयुवक परिषद के केंद्रीय प्रतिनिधि श्रेयांश हिंगड़ , उपाध्यक्ष रोहित संघवी, पूर्व अध्यक्ष दिलीप कर्णावट, वीरेंद्र डोसी, पूर्व उपाध्यक्ष राजकुमार चपरोत, कोषाध्यक्ष विपिन चपरोत, शिक्षा मंत्री महेंद्र छिगावत, सह शिक्षा मंत्री संदीप हिंगड़, सांस्कृतिक मंत्री मनीष सगरावत, प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य मनीष बाफना, प्रचार मंत्री कुलदीप  मारवाड़ी, अनिमेष  पोरवाल, नमन  छिगावत, आयुष डोसी आदि उपस्थित रहें।