पुरानी रंजिश को लेकर अर्धविक्षिप्त महिला की हत्या का पुलिस ने लगाया पता

महावीर अग्रवाल
 मंदसौर २१ जून ;अभी तक;   अर्धविक्षिप्त महिला के अंधे कत्ल का थाना सीतामऊ पुलिस टीम के द्वारा 12 घंटे के भीतर ही किया गया पर्दाफाश । पुरानी रंजिश रही हत्या की वजह। मृतिका के लडके के द्वारा आरोपी की भांजी केे साथ लव मैरिज करने से आहत होकर आरोपी द्वारा महिला के परिवार से रंजिश रखते आरोपी बाबूलाल पिता कचरूलाल सूर्यवंशी ने अपने दोस्त पप्पूलाल बलाई के साथ मिलकर दिया था हत्या की घटना को अंजाम। पुलिस टीम के द्वारा आरोपी पप्पूलाल बलाई को किया गया गिरफ्तार । घटना में फरार एक अन्य आरोपी बाबूलाल सूर्यवंशी की तलाश जारी।
               निरीक्षक श्री दिनेश प्रजापति ने बताया कि डायल 100 द्वारा सूचना मिली कि पुलिस चौकी साताखेड़ी थाना सीतामऊ क्षेत्रांतर्गत ग्राम टाटका में एक महिला का मृत शरीर उसके घर के बाहर आंगन में पडा हुआ है।श्री सिद्धार्थ चैधरी, पुलिस अधीक्षक मंदसौर एवं जिले के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ घटनास्थल का मौका मुआयना करते मृतिका के शरीर पर चोट पायी जाने से प्रथम दृष्ट्या अज्ञात आरोपी द्वारा मृतिका की हत्या करने का मामला पाया गया जिससे फरियादी मुकेश पिता स्व. भेरूलाल सूर्यवंशी निवासी टाटका की रिपोर्ट पर से थाना सीतामऊ पर अपराध क्रमांक 508/21 धारा 302 भादवि का अज्ञात आरोपी के विरूद्ध पंजीबद्ध कर विवेचना मे लिया गया।
              श्री सिद्धार्थ चैधरी, पुलिस अधीक्षक मंदसौर के द्वारा घटना को कारित करने वाले आरोपी को शिघ्र गिरफ्तार करने हेतु मौके पर मौजूद अधिकारियों को निर्देिशत किया गया था। घटनास्थल पर मिले भौतिक एवं अन्य साक्ष्यों एवं पूछताछ के आधार पर आरोपी की पतारसी हेतु थाने एवं चौकी के कुशल अधिकारी/कर्मचारी की टीमें गठित कर अपराध की पतारसी प्रारंभ की गई। श्री सिद्धार्थ चैधरी, पुलिस अधीक्षक मंदसौर के निर्देषन में तथा श्री महेन्द्र तारणेकर, अति0 पुलिस अधीक्षक गरोठ अनुभाग के मार्गदर्षन में एवं श्री शेरसिंह भूरिया, अअपु सीतामऊ तथा श्री दिनेश प्रजापति, थाना प्रभारी सीतामऊ के कुशल नेतृत्व में चौकी प्रभारी साताखेडी श्री जितेन्द्र सोलंकी एवं पुलिस टीम को महिला की हत्या करने वाले आरोपियों में से 1 आरोपी पप्पूलाल बलाई  को घटना कारित करने के 12 घंटे के भीतर ही गिरफ्तार करने में बडी सफलता मिली। घटना मे शामिल 1 अन्य आरोपी बाबूलाल सूर्यवंशी घटना दिनांक से फरार जिसकी तलाश जारी है।
तरीका-ए-वारदातः-
उन्होंने बताया कि मृतिका का लड़का संजय ने आरोपी बाबूलाल पिता कचरूलाल सूर्यवंशी निवासी टाटका थाना सीतामऊ की भांजी से लव मेरीज कर ली थी जिससे आरोपी बाबूलाल संजय के परिवार वालो से रंजिश रखता था । घटना के 3-4 दिवस पूर्व संजय अपनी पत्नी के साथ जोधपुर से अपने गाँव टाटका आया हुआ था। बाबूलाल ने संजय से मिलकर बोला कि तूनेे मेरी भांजी से शादी की है, मै तुझे एवं तेरे परिवार वालो को नही छोडूंगा। घटना दिनांक को आरोपी बाबूलाल ने अपने साथी पप्पूलाल के साथ मिलकर शराब पी। शराब पीने के बाद बाबूलाल अपनी मोटर साईकल से पप्पूलाल को साथ लेकर मृतिका के घर के सामने से निकलने के दौरान अपनी गाड़ी रोककर गाड़ी को रेस देकर तेज आवाज करने लगा इसी बात पर मृतिका ने बाबूलाल को बोला कि गाड़ी की तेज आवाज मत करो मुझे सोना है। इसी बात पर आरोपी बाबूलाल व पप्पूलाल ने मृतिका के परिवार से पूर्व से ही रंजिश रखते हूये दोनों ने मिलकर मृतिका के हाथ पैर पकड़ लिये ओर मृतिका के मुँह मे कपड़ा ठुंस दिया ओर आरोपी पप्पूलाल ने मृतिका के साथ बलात्कार किया व बलात्कार करने के बाद पप्पूलाल ने अपने हाथो से महिला का गला दबाया और बाबूलाल ने महिला के गले पर पैर रखकर मृतिका का गला दबा दिया जिससे मृतिका की मोके पर ही मृत्यु हो गई। तथा दोनों आरोपी घटना को अंजाम देने के बाद मोके से फरार हो गये।
गिरफ्तारषुदा आरोपी का नाम:-
 पप्पूलाल पिता मोहनलाल मालवीय जाति बलाई उम्र 24 साल निवासी ग्राम टाटका
फरार आरोपी का नाम:-
बाबूलाल पिता कचरूलाल सुर्यवंशी निवासी टाटका
पुलिस टीम:-
निरीक्षक दिनेष प्रजापति, थाना प्रभारी सीतामउ, उनि जितेन्द्र सौलंकी, उनि सतेन्द्र सैनी, सउनि विजय पुरोहित, प्रआर 633 शम्भुलाल, प्रआर 742 सुरेन्द्र सिंह, प्रआर 125 रमेश थुरेचा, आरक्षक मनीष, आरक्षक 399 राहुल यादव, आरक्षक 422 सिराज खाँन, आरक्षक 834 अरुण शर्मा, आरक्षक 310 विक्रमसिंह, आरक्षक 81 सुमित यादव, सैनिक कचरूलाल, सैनिक 211 बहादुर सिंह का सराहनीय योगदान रहा।