पुराने बजट का सम्मानजनक हिसाब कर दो, अधिकारी का ऑडियो हुआ वायरल

8:13 pm or May 8, 2022
मोहम्मद सईद
शहडोल 8 मई ; अभी तक ; सोशल मीडिया के इस दौर में रोजाना किसी न किसी का ऑडियो या वीडियो वायरल होता ही रहता है। अब उमरिया के कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के उप संचालक खिलावन डहरिया और उनके एक मातहत कर्मचारी रज्जन के बीच हुई बातचीत का एक ऑडियो सोशल मीडिया में जमकर वायरल हो रहा है। इस वायरल ऑडियो में 30 परसेंट के लेन-देन और पुराने बजट का हिसाब करने को लेकर बातचीत हो रही है।
                     वायरल ऑडियो उमरिया कलेक्टर संजीव श्रीवास्तव के संज्ञान में आने के बाद कलेक्टर ने मामले की जांच अपर कलेक्टर अशोक ओहरी को सौंप दी है। इस कथित ऑडियो के सामने आने के बाद अब इस बात का अंदाजा आसानी से लगाया जा सकता है कि उमरिया जिले में कृषि विभाग की योजनाओं का क्रियान्वयन किस तरह से होता होगा।
                  वायरल ऑडियो में कृषि एवं किसान कल्याण विभाग के उप संचालक खिलावन डहरिया पुराने बचे हुए बजट पर सम्मानजनक और इंस्पेक्टर बनाने के बदले हिसाब करने की बात कह रहे हैं। ऑडियो में श्री डहरिया को यह भी कहते हुए सुना जा सकता है कि मेरे 10 महीने पूरे हो गए हैं और मैं 12 महीने के बाद अपना रंग दिखाऊंगा। बातचीत में यह भी कहा जा रहा है कि 30 प्रतिशत वाले को भुंजी भांग मत देना। फंड के बारे में बताया जा रहा है कि फंड आखिरी तारीख को आया था, जिसके चलते बिल पास नहीं किया गया। लेकिन मैंने अपने जेब से लगाकर बिल पास कराया। इस बिल के संबंध में ट्रेजरी अफसर का भी जिक्र किया गया है। बातचीत में बजट को एडजस्ट करने का तरीका भी बताया जा रहा है। साथ ही यह भी कहा जा रहा है कि किसी से डरने की जरूरत नहीं है क्योंकि बिल वाउचर का समायोजन तो डी डी ए ही करेगा। बातचीत में यह भी कहा जा रहा है कि मुझे वे लोग बेवकूफ समझते थे अब मुझे ही डी डी ए की कमान मिल गई है।
                  वायरल ऑडियो के संबंध में अपर कलेक्टर उमरिया अशोक ओहरी ने अभी तक न्यूज़ को बताया कि कलेक्टर द्वारा उन्हे जांच सौंपी गई है। उन्होंने बताया कि जांच की जा रही है और जल्द ही रिपोर्ट कलेक्टर संजीव श्रीवास्तव को प्रस्तुत कर दी जाएगी।