*पुलिस आरक्षक के साथ मारपीट करने वाले अभियुक्तगण की जमानत निरस्त*

महावीर अग्रवाल
मन्दसौर / उज्जैन ४ अक्टूबर ;अभी तक; न्यायालय श्रीमान  प्रथम श्रेणी न्यायिक मजिस्ट्रेट जिला उज्जैन के न्यायालय द्वारा अभियुक्तगण 01. सोहेल पिता मुंशी 02. मोईन पिता मजीद 03. मजीद पिता इब्राहिम निवासीगण-ताजपुर का जमानत आवेदन निरस्त किया गया।
                  अभियोजन मीडिया सेल प्रभारी/पैरवीकर्ता श्री मुकेश कुमार कुन्हारे ने बताया कि अभियोजन घटना इस प्रकार है कि दिनांक 29.02.2020 को आरक्षक सुनील परमार मय फोर्स के साथ ताजपुर अभियुक्त मजीद की तलाश में गये थे तब अभियुक्त अपने घर के सामने मिला मैने उसे समझाने का प्रयास किया कि आप के खिलाफ एवं आपके लड़के के खिलाफ अपराध कायम है थाने पर जमानत करा ले। इसी दौरान मजीद के लड़के मोईन एवं सोहेल आ गये और मेरे साथ झूमाझटकी कर बदतमीजी करने लगे मैने कहा आप लोगो को पकडने नही आया हूॅ समझा रहा हॅू इस पर तीनों ने काफी आवेश में आकर मेरे साथ झूमाझटकी की तथा नंगी-नंगी गालियां दी व शासकीय कार्य में बाधा पैदा की इसी चिल्लाचोट में वहा और भी लोग आ गये तथा सउनि बी.एस. चौहान एवं आर. जो आसपास के लोगों से चर्चा कर रहे थे, ये लोग आ गये इन लोगो को देखकर तीनों भाग गये। जाते-जाते बोले कि आईन्दा हम लोगों को पकडने आये तो जान से खत्म कर देंगे। पुलिस हमारा कुछ नहीं बिगाड सकती। इसी झूमाझटकी में मेरे सोने की चैन गिर गई तथा मेरे गले में एवं दोनों हाथों मे चोट आई है। आरक्षक ने थाना चिमनगंजमंडी पर घटना के संबंध में रिपोर्ट दर्ज कराई। पुलिस थाना चिमनगंजमंडी द्वारा अभियुक्तगण के विरूद्ध अपराध पंजीबद्ध किया गया।
अभियुक्त द्वारा जमानत हेतु आवेदन न्यायालय में प्रस्तुत किया था। अभियोजन द्वारा जमानत आवेदन का विरोध किया कि अभियुक्त द्वारा गंभीर अपराध कारित किया है। न्यायालय द्वारा अभियोजन के तर्कों से सहमत होकर अभियुक्त का जमानत आवेदन निरस्त किया गया।
प्रकरण में शासन की ओर से पैरवी श्री मुकेश कुमार कुन्हारे सहा. जिला लोक अभियोजन अधिकारी, जिला उज्जैन द्वारा पैरवी की गई।

Related Articles

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *