प्यासे राहगीरों को शीतल जल पिलाना हमारी परम्परा-श्री मच्छीरक्षक

महावीर अग्रवाल
मन्दसौर १३ जून ;अभी तक;  नगर की सामाजिक एवं धार्मिक संस्था विनर क्लब परिवार द्वारा बीपीएल चौराहा पर संचालित जल मंदिर का समापन रविवार को हुआ। विगत 81 दिनों में जल मंदिर पर जल सेवा का क्रम अनवरत चालू रहा। कोरोना कर्फ्यू के दौरान भी क्लब परिवार नेे शीतल जल सेवा कर मरीज के परिजनों, स्वास्थ्य कर्मियों एवं पुलिस कर्मियों को जल सेवा की गई।
समापन अवसर पर जल मंदिर सहयोगकर्ता विमलचंद जैन मच्छीरक्षक ने कहा कि भारत में हमेशा से ही सेवा की परंपरा रही है। जल सेवा भी इसी संस्कृति से प्रेरित है। गर्मी के मौसम में प्यासे राहगीरों को शीतल जल पिलाने की सेवा हमारी परम्परा है। इसी परम्परा का निर्वाह विनर क्लब द्वारा किया गया है।
विनर क्लब के संस्थापक अध्यक्ष  ने कहा कि बीपीएल चौराहे के आसपास कोई सार्वजनिक प्याऊ नहीं होने से यहां राहगिरों को पीने के पानी की काफी समस्या आ रही थी। यहा यातायात अधिक रहता है साथ ही आसपास हॉस्पिटल भी है जिससे बाहर से आने वाले मरीजों के परिजनों को भी पेयजल के लिये परेशान होना पड़ रहा था इस कारण क्लब ने इस स्थान का चयन कर विगत 24 मार्च को जल मंदिर का शुभारंभ किया। जिसका लाभ हजारों लोगों को मिला है।
समापन पर प्याऊ पर प्रतिदिन सेवा देने वाली बहन श्रीमती मंजू ठाकुर, पानी का टेंकर लाने वाले नपा कर्मी बल्लू भाई, मोहम्मद वसीम, आलम खान का शाल, श्रीफल व मोती की माला सहयोग राशि भेंट कर सम्मान किया।
इस अवसपर क्लब के अध्यक्ष विजय गहलोत, संजय मंडोवरा, शंभुसेन राठौर, शुभम मारोठिया सामाजिक कार्यकर्ता सुनील बंसल भी उपस्थित थे। कार्यक्रम का संचालन  मारोठिया ने किया एवं आभार नवीन खोखर ने माना।