प्रत्याशी का जन विरोध के कारण जनंसवर्क छोडकर लौटने की बेबसी

मयंक शर्मा

खंडवा २७ अक्टूबर ;अभी तक; जिले की एक मात्र मांधाता विस सीट के उपचुनाव में चुनाव प्रचार के दौरान पार्टी और प्रत्याशी नारायण पटेल को लोगों की खरी खोटी सुनना पड़ रही है।  कांग्रेस छोड़ भाजपा में आए पूर्व विधायक नारायण पटेल को अब उन्हीं की विधानसभा में विरोध का सामना करना पड़ रहा है।  ग्राम सीवर में ग़ुस्साए युवाओं की बातों का नारायण पटेल भी जवाब नहीं दे पाए और युवाओं ने भाजपा प्रत्याशी के सामने ही निर्दलीय प्रत्याशी के पक्ष में नारे लगाते इस गांव में सिर्फ निर्दलीय को ही वोट देंने का कहने से भाजपाइयों को प्रचार को बीच में छोड कर लौटना पड़ा।

                 कांग्रेस से इस्तीफा देकर भाजपा के टिकट पर उपचुनाव लड़ रहे नारायण पटेल जब अपने लिए सीवर और फेफरिया वोट मांगने गए तो ग्रामीणों ने साफ कहा जब पहली पार्टी कांग्रेस में सुनवाई नहीं हुई तो पार्टी छोड़ दी, अब यहाँ भी सुनवाई नहीं होगी तो फिर कहां जाएंगे। हमसे किए वादों का क्या होगा।
                  प्रत्याशी नाराणपटेल ने कहा कि विरोधी  गुट कांग्रेस की साजिश है। अपनी हार देखकर बौखला गये है। उन्होने बताया कि युवाओं को उन्होंने समझने का प्रयास भी किया है। पर वहां से लौटना पड़ा हे नेकिन वेे ग्राम का पुनः दौरा करेगे।
मतदान की तिथि 3 नवम्बर के नजदीक खडे होते जाने से दलबदल के कारण भाजपा प्रत्याशी नारायण पटेल के लिये खडी हो रही चुनोलियों ने क्षेत्र की राजनीति को गर्म कर दिया है।

Related Articles

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *