प्रभु यीशु का मनाया जन्मदिन,  काटा केट एक दूसरे को दी बधाई, सादगी से मनाया क्रिसमस पर्व, बच्चों में रहा उत्साह

3:10 pm or December 26, 2021

नारायणगंज से प्रहलाद कछवाहा

मंडला २६  दिसबंर ;अभी तक;  क्रिसमस का पर्व ईसा मसीह की नि:स्वार्थता, सहिष्णुता एवं भाईचारे की शिक्षा का उल्लास मनाने का पर्व है। जिसे मसीही समाज ने उल्लासपूर्वक मनाया।  सेंट लूक्स चर्च व देवदरा स्थित वेथ हेल प्रार्थना भवन में प्रार्थना सभा का आयोजन किया गया। जगह-जगह झांकियां सजाई गई हैं। नगर के सभी चर्च व समाज के लोगों ने अपने घरों को रोशनियों से सजाया। विगत मध्यरात्रि गिरजाघरों में जिंगल बेल बजा और क्रिसमस का धमाल शुरू हो गया। प्रभु यीशु के जन्मदिन की खुशियां मनाई गई। समाज के सभी लोग चर्च में एकत्र हुए और प्रभु से प्रार्थना की।
प्रभु यीशु के जन्मदिन के अवसर पर लोग एकत्र हुये। शहर में स्थित चर्च में इस पर्व को उल्लास एवं उत्साह के साथ मनाया। बच्चों में विशेष उत्साह देखा गया। सेंट लूक्स चर्च में सुबह के वक्त समाज के लोग एकत्र हुए फिर पास्टर ने प्रभु की प्रार्थना की। इस मौके पर लोगों ने जन्म दिवस के गीत गाया गया। इस विशेष अवसर के लिए विशेष तैयारियां की गई। कुछ लोगों के द्वारा घर में भी केक काटा गया। पकवान बनाए गए जो अतिथियों के आने पर पकवान खिलाए गए।

रोशनी से जगमगाए चर्च:

क्रिसमस पर्व ने शहर के चर्चो में अभूतपूर्व उत्साह देखा गया। प्रभु यीशु के जन्मदिवस के अवसर में शहर के चर्चो को आकर्षक रोशनी एवं विशेष साज सज्जा से सजाया गया। इन गिरिजा घरों में प्रभु यीशु के जन्म से संबंधित विशेष झांकियों का आयोजन किया गया। ये रंग बिरंगे रोशनी के साथ प्रभु यीशु के जन्म से संबधित झांकिया सजाई गई। मसीह समाज से जुड़ेे नगर के शैक्षणिक संस्थान में कार्यक्रम आयोजित किए गए एवं प्रेम तथा भाईचारे के संदेश के साथ इन संस्थानों ने मानव समाज को शांति एवं मुक्ति की ओर प्रेरित करने हेतु प्रार्थना की।

घरों में भी मनाया जन्मदिन:

मसीह समाज के लोगों ने चर्च के साथ ही घर में भी प्रभु का जन्मदिन मनाया। घर में केक के अतिरिक्त विशेष पकवान भी बनाए जो आमंत्रित अतिथियों एवं परिवार के सदस्यों को दिए गए। क्रिसमस पर्व ने शहर के चर्च आकर्षक रोशनी से जगमगाते रहे। इन गिरिजा घरों में प्रभु यीशु के जन्म से संबंधित विशेष झांकियां भी प्रदर्शित की गई।

इनका कहना है
क्रिसमस की तैयारियां पहले से ही शुरू हो जाती है। इसमें गाने, ड्रामा, डांस, प्रार्थनाएं होती है। एक दूसरे के घर जाकर कैरोल सिंगिंग के गीत गाए जाते है। नए कपड़े पहनते है। इस तरह हम प्रभु यीशु का जन्मदिन एक दूसर के साथ मनाते है।
अविनाश दास

परिवार के साथ क्रिसमस पर्व को हमने मनाया। हम सभी प्रभु का जन्मदिन पर उल्लास और उमंग के साथ मस्ती किए। परिवार के साथ पर्व का मजा कहीं ज्यादा खुशी दे रहा है। हम सभी इष्ट मित्रों के साथ मिलकर क्रिसमस का मजा लिए।
मनीष लोकश

इस दिन का बहुत इंतजार रहता है। प्रभु यीशु ने जन्म लेकर हमारे जीवन को बचाया है। हमारे हद्य में खुशी है। परमेश्वर ने इस धरती पर जन्म लिया जिससे सभी की रक्षा कर सके। इस अवसर पर हम लोगों ने केक काटा और प्रार्थना की।
शैलेन्द्र शिलास

सबसे पहले क्रिसमस की बहुत सारी शुभकामनाएं। प्रभु का जन्म हम सभी के लिए आनंदकारी है। हम इस अवसर पर सभी को यह संदेश देना चाहते है कि वे मिलजुलकर शांति से रहे। क्रिसमस का पर्व हम सभी के लिए खास है।
इतिका सिंह

यह पर्व सभी के लिए खुशी लेकर आया है। बड़े मजे कर रहे है। हमने क्रिसमस कैरोल गए है। सभी के घरों में गए। प्रभु यीशु ने जैसे चरनीक पर जन्म लिया वैसे वे हमारे दिलों में जन्म ले। यहीं कामना हम प्रति वर्ष यहां प्रभु के सामने करते है।
नंदिता सेमुअल

क्रिसमस प्रेम का संदेश देने वाला त्योहार है। क्रिसमस एक अनोखा पर्व है जो ईश्वर के प्रेम, आनंद एवं उद्धार का संदेश देता है। इस अवसर पर प्रार्थना भवन में विशेष प्रार्थना आयोजित की और सभी के लिए प्रार्थना की गई।
आयुषी

क्रिसमस पर्व को लेकर बच्चों में खासा उत्साह रहा। जिसके लिए वे पहले से तैयारियां कर रहे थे और इस पर्व को सभी ने बड़े धूमधाम के साथ मनाया। चर्च के साथ घर-घर में भी बड़े उत्साह के साथ क्रिसमस की तैयार कर सेलीब्रेट किया गया।
अर्पिता शैली

एक दिन पूर्व कैरोल पार्टी का आयोजन किया गया, जिसमें युवक युवतियों की टोली मसीही समाज के घर घर जाकर संदेश दी कि प्रभु का जन्म होने वाला है।   प्रत्येक घर में जाकर टोली के द्वारा संदेश दिया गया और कैरोल गीत गाए।
अर्पिता