फार्मासिस्ट चिकित्सक एवं मरीज के बीच का एक महत्वपूर्ण अंग एमपीपीए ने मनाया विश्व फार्मासिस्ट दिवस

9:06 pm or September 26, 2020
फार्मासिस्ट चिकित्सक एवं मरीज के बीच का एक महत्वपूर्ण अंग एमपीपीए ने मनाया विश्व फार्मासिस्ट दिवस
महावीर अग्रवाल
मन्दसौर २६ सितम्बर ;अभी तक; एमपी फार्मासिस्ट एसोसिएशन ने विश्व फार्मासिस्ट दिवस के अवसर पर कोविड नियमों का पालन करते हुए विभिन्न आयोजन किए।
           संगठन के जिला अध्यक्ष प्रतापसिंह चंद्रावत के द्वारा मंदसौर जिले में सबसे पहले फार्मेसी करने वाले श्री राजेश ठन्ना का प्रशस्ति पत्र देकर तथा जिला ड्रग इंस्पेक्टर श्री जयप्रकाश का बैच लगा कर सम्मान किया। साथ ही कोरोना काल के दौरान शासकीय स्वास्थ सेवाओं में कार्यरत जिले के कोरोना योद्धा फार्मासिस्ट दुर्गाशंकर सुनार्थी सहित सभी साथियों को प्रशस्ति पत्र दे कर सम्मानित किया।
                 जिला सचिव मुर्तजा अली द्वारा शहर के सभी सीनियर फार्मासिस्ट जो अलग-अलग विधाओं से है उनका बैच लगा कर एवं सम्मान पत्र दे कर सम्मानित किया गया। वहीं संघ के संरक्षक नरेंद्र त्रिवेदी  द्वारा मंदसौर में पहले फार्मासिस्ट मेडिकल स्टोर्स खोलने वाले श्री सचिन पाटनी का सम्मान किया। फार्मेसी कॉलेज के डायरेक्टर डॉ. अमित जैन एवं वरिष्ठ फार्मासिस्ट डॉ. अनुरेखा जैन, प्रीतेश राव, आशीष मंडलोई, पंकज बाफना, मनीष कुमावत, राहुल सोनी, सूरजमल चौहान, लोकेंद्र पांडेय, मंदसौर में हर्बल फैक्ट्री संचालक फार्मासिस्ट डॉ कपिलेश दवे जी का सम्मान किया गया एवं अन्य फार्मासिस्ट को प्रशस्ति पत्र एवं तुलसी के पौधे दे कर सम्मान किया गया।
                   इस अवसर पर वरिष्ठ फार्मासिस्ट साथियों ने घर पर रहते हुए वीडियो के माध्यम से  संघ की प्रदेश टीम व जिले के समस्त फार्मासिस्ट को बधाई एवं शुभकामनाएं दी साथ ही कहा कि   आपके द्वारा अविस्मरणीय सम्मान समारोह पल जीवन पर्यन्त यादगार रहेगा। फार्मासिस्ट एक चिकित्सक के बराबर पढ़ाई करता है वह चिकित्सक एवं मरीजों के बीच का एक महत्वपूर्ण अंग होता है, जो दोनों को जोड़े रखता है क्योंकि दवाई आजकल सभी के लिए बहुत जरूरी होती जा रही है और जहां दवा होती हैं वहां फार्मासिस्ट होना चाहिए क्योंकि दवाई का ज्ञाता फार्मासिस्ट होता है। संगठन के प्रदेश अध्यक्ष श्री अमितसिंह ठाकुर ने संदेश के माध्यम से कहा कि प्रदेश के लाखों फार्मासिस्ट सम्मान के हकदार है। प्रदेश सरकार को निश्चित तौर पर चिंतन कर फार्मासिस्ट को उनका अधिकार मिले इस दिशा में अहम कदम उठाने की आवश्यकता है एवं एमपीपीए संगठन सदैव फार्मासिस्ट साथियों के हितों के लिए तत्पर रहेगा। इस अवसर पर कार्यकारिणी महिला प्रकोष्ठ की हिमशिखा नंदवानी, मरियम अत्तार के साथ उपाध्यक्ष सोमिल पोरवाल, साहिल चोरड़िया, कोषाध्यक्ष दीपक राठौड़, हेमंत पमनानी, भरत पाटीदार, कुलदीप सिंह चौहान सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित रहे। उक्त जानकारी जिला मीडिया प्रभारी सुनील पंचोली ने दी

Related Articles

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *