बजरंग दल द्वारा नारेबाजी कर सौपे ज्ञापन में छैगांव थाना प्रभारी के निंलबन की मांग

मयंक शर्मा

खंडवा २४ अगस्त ;अभी तक;  जिले की अजजा सीट के पंधाना विधायक राम दांगोरे ने बडी चुनौती खडी कर दी है कि धार्मिक भावना भड़काने वालों को नहीं बख्शा जाएगा। वह फिर चाहे कोई थाना प्रभारी ही क्यों न हो !

आज सोमवार को बजरंग ल ने एसपी कार्यालय के समझा नारेबाजी कर मांग का ज्ञाापन सौपा। बजरंग दल ने टीआई को निलंबित कर प्रकरण दर्ज करने की मांग की है।  यह चेतावनी दी गयी है कि कार्रवाही  नहीं होने पर  इंदौर-इच्छापुर हाइवे पर चक्काजाम शुरू किया जायेगा।

                 पंधाना विधायक राम दांगोरे ने गृह मंत्री एवं एसपी से चर्चा की। श्री दांगोरे ने कहा इस तरह अपमान बर्दाश्त नहीं किया जाएगा।  छैगांवमाखन के थाना प्रभारी मोहनसिंह सिगारे उस समय कटघरे में खडे हो गये है तब गणेश उत्सव के आंरभ दिवस उन पर गंभीर अरोप हिन्दू संगठन विशेषकर विहिप व बंजरग दल  ने जडे है कि छैगांवमाखन थाने की देशगांव चैकी में स्थापित गणेश प्रतिमा को टीआई द्वारा हटवाई गयी वहीं छैगांव माखन चैराहा स्थित गणेश मंदिर मे प्रतिमा स्थापना करने वाले को धमकाया  जिससे मंदिर में प्रतिमा स्थापित नही हो सकी ।
              देशगांव चैकी में गणेश प्रतिमा स्थापित कराने वाले पंडित दीपक महाराज ने बताया मैंने इस साल भी गणेशजी की प्रतिमा स्थापित की थी। कुछ ही देर बाद छैगांवमाखन थाना प्रभारी ने वहां से प्रतिमा हटा दी। मैं शाम की आरती करने चैकी पहुंचा तो उस स्थान पर प्रतिमा नहीं थी। एक तरह से प्रतिमा खंडित हुई है।
              छैगांवमाखन के प्रवीण पाटीदार ने बताया मेरे व छोटे भाई के बच्चों ने मिट्टी की आधे फीट की गणेश प्रतिमा बनाई थी। श्रीराम चैक गणेश मंदिर पर स्थापना करने गए थे। टीआई ने धमकाते हुए गालीगलौज कर वहां से भगा दिया।

हिंदू संगठनों विशेषकर बंजरग दल व विहिप के स्थानीय नेताओ ने गणेश उत्सव के पहले दिन शनिवार से उठ खडा हुआ
बखेडा निरंतर गहरा रहा है।  छैगांवमाखन चैराहे के पास गणेश जी का मंदिर  में वर्षों से हो रही मूर्ति की स्थापना इस बार नहीं होने दी वही इसके  कुछ देर बाद देशगांव चैकी में  स्थापित की गई गणेश जी की मूर्ति को हटाने की खबर ने आग में घी का काम किया।  रविवार से  मामले ने अधिक तूल पकड़ लिया है।
विश्व हिंदू परिषद के जिला महामंत्री अनिमेष जोशी ने बताया कि चैकी में पंडित दीपू महाराज ने गणेशजी की मूर्ति की स्थापना की थी। स्थापना के कुछ देर बाद थाना प्रभारी सिंगोरे देशगांव चैकी पहुंचे और उन्होंने स्थापित मूर्ति को हटवा दिया। पंडित दीपू महाराज  ने कहा कि स्थापित मूर्ति को हटाना उसे खंडित करने के समान है। ऐसा करके थाना प्रभारी सिंगोरे ने धार्मिक भावना को आहत किया है। इसके लिए उन्हें तत्काल निलंबित कर उनपर धार्मिक  भावना भड़काने का प्रकरण दर्ज किया जाए।

.0 इन्होने  कहा
देशगांव चैकी में स्थापित गणेश मूर्ति को दूसरी जगह स्थापना करने की जानकारी मिली है। मामले की जांच डीएसपी हेडक्वार्टर के पी डेविड को सौंपी गई है। जांच के बाद ही स्थिति स्पष्ट हो पाएगी।
-विवेक सिंह, एसपी खंडवा।

Related Articles

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *