बलवा-तोडफ़ोड़ करने वाले 9 आरोपियों को जेल भेजा

मयंक भार्गव, बैतूल से

बैतूल ३ सितम्बर ;अभी तक;  झल्लार थानांतर्गत रंभा ग्राम में धार्मिक आयोजन के लिए एकत्रित भीड़  द्वारा सामाजिक संगठन के पदाधिकारियों के उकसावे पर धारदार हथ्यारों के साथ दुकानों एवं मकानों में तोडफ़ोड़ करने के मामले में पुलिस ने घेराबंदी कर 9 आरोपियों को गिरफ्तार कर अपर जिला एवं सत्र न्यायालय भैंसदेही में पेश किया था। न्यायालय द्वारा जेल वारंट जारी करने पर झल्लार पुलिस ने सभी आरोपियों को जेल भेज दिया। बलवा और तोडफ़ोड़ मामले में अभी 3 नामजद सहित 15 आरोपी फरार है जिनकी पुलिस सरगर्मी से तलाश कर रही है।

गिरफ्तारी के लिए एएसपी ने गठित की थी टीमें

रंभा ग्राम में एक सामाजिक संगठन ने धार्मिक आयोजन के लिए बड़ी संख्या में ग्रामीणों को एकत्रित किया था। धार्मिक आयोजन के दौरान सामाजिक संगठन के चैतराम कास्देकर सहित अन्य लोगों ने मंच से भीड़ को दुकानें एवं मकान तोडऩे के लिए उकसाया गया। परिणाम स्वरूप भीड़ में शामिल लोगों ने एक राय होकर कुल्हाड़ी, फरसा, डंडे, गैंती से हमला कर कमल आर्य की किराना दुकान, रमेश के मकान एवं राजेश श्रीवास की सैलून दुकान में जमकर तोडफ़ोड़ की गई। रंभा निवासी राजेश श्रीवास, रमेश पाटिल एवं लखन आर्य की शिकायत पर झल्लार पुलिस ने चैतराम कास्देकर, रामसू डिकारे, हीरामन कास्देकर, पिंटू उर्फ लक्ष्मण लोखण्डे, कायटा जावरकर, लक्ष्मण जावरकर, मुंगीलाल, दिनेश बारस्कर, महादेव, खुशराज डिकारे, मौजीलाल एवं पूना सिंह डिकारे सहित अन्य आरोपियों के खिलाफ अपराध क्रमांक 271/2021, 272/2021, 276/2021 धारा 188, 269, 270, 147, 148, 149, 427, 506, 452, 440 आईपीसी तथा आपदा प्रबंधन अधिनियम 2005 की धारा 51 के तहत अपराध पंजीबद्ध किया था। बलवा एवं तोडफ़ोड़ के मामले को पुलिस अधीक्षक ने गंभीरता से लेकर आरोपियों की गिरफ्तारी के लिए भैंसदेही एसडीओपी शिवचरण बोहित के मार्गदर्शन में झल्लार, भैंसदेही एवं आठनेर थानों की टीमें गठित की थी।

इन आरोपियों को किया गिरफ्तार

एसडीओपी भैंसदेही के मार्गदर्शन में आठनेर एवं भैंसदेही पुलिस के सहयोग से झल्लार थाना प्रभारी इंस्पेक्टर दीपक पाराशर, सब इंस्पेक्टर जीपी रम्हारिया, कार्य.सउनि मूलचंद अनंत, प्रधान आरक्षक रोहित टेकाम, सुभाष काजले, आरक्षक सोनू काजले, प्रवीण धुर्वे, महिला आरक्षक राखी कुमरे ने घेराबंदी कर 9 आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया। गिरफ्तार किए गए आरोपियों में चैतराम कास्देकर, मुंगीलाल कास्देकर, हीरामन कास्देकर, महादेव बारस्कर, पिंटू लोखण्डे, कायटा जावरकर, रामसू डिकारे, दिनेश बारस्कर शामिल है। झल्लार पुलिस ने आरोपियों को भैंसदेही न्यायालय में पेश किया। न्यायालय के आदेश पर आरोपियों को जेल भेज दिया गया है।

वीडियो देखकर आरोपियों की कर रहे पहचान:एसडीओपी

भैंसदेही एसडीओपी शिवचरण बोहित ने बताया कि रंभा में मकान-दुकानों में तोडफ़ोड़ करने वाले 9 आरोपियों को गिरफ्तार कर न्यायालय के आदेश पर जेल भेज दिया है। उन्होंने बताया कि तीन नामजद आरोपियों सहित 15 आरोपी फरार है जिनकी सरगर्मी से तलाश की जा रही है। एसडीओपी भैंसदेही ने बताया कि घटना का वीडियो देखकर तोडफ़ोड़ करने वाले आरोपियों की पहचान भी की जा रही है।