बलिदानियों की जन्मभूमि की मिट्टी अपने आप में चंदन है :मंत्री शाह

मयंक शर्मा
खंडवा २८ नवंबर ;अभी तक;  आजादी की लड़ाई में बलिदान हुए ऐसे वीर शहीदों एवं अनुसूचित जनजाति
के कई योध्दाओं को जिन्होने स्वतंत्रता की लड़ाई में अपना सर्वस्व
न्यौछावर कर दिया ऐसे वीरों को हमारी सरकार खोजकर उन्हे सम्मान देते हुए
नई पीढ़ी को उनके पाठ पढ़ाने का कार्य करने जा रही है। इन बलिदानियों की
जन्मभूमि की मिट्टी अपने आप में चंदन है जिन्हे सिर पर लगाकर हम गर्व
महसूस कर सकते है,ऐसे ही महान योध्दा जिन्हे पूर्व की सरकारें और इतिहास
लिखने वाले ऐसे कई बलिदानियों को भूल गई थी। टंटया मामा,बिरसा मुंडा,शंकर
लाल शाह जैसे अनुसूचित जाति वर्ग के साथ कई और योध्दा को हम याद कर रहे
है।
यह बात गौरव कलश यात्रा में शामिल प्रदेश के वनमंत्री कुंवर विजय शाह ने
खालवा,खार,सिंगोट व अन्य स्थानों पर क्षेत्रवासियों को संबोधित करते हुए
कही। मंत्री श्री शाह ने कहा कि बड़ौदा अहीर में जन्मे टंटया भील मामा
जिन्होने अकेले ही अ‍ॅग्रेजी सेना से मुकाबला किया लूटा और उस लूट के
पैसो को गरीब आदिवासियों में बांटा। प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराजसिंह
चौहान ने ऐसे वीर को सम्मान देने के लिए जहां करोड़ो रूपए का स्मारक बनाकर
आदिवासी जनजाति समूह के लोगों को सौगात दी वही उनकी जन्मभूमि से मिट्टी
लेकर कलशों को जनजाति क्षेत्रों में गौरव यात्रा के माध्यम से घुमाकर
उन्हे याद किया जा रहा है। यह यात्रा पूरे आदिवासी क्षेत्रों से होकर 04
दिसंबर को इंदौर जिले के पातालपानी पहुंचेगी जहां टंटया मामा को फांसी दी
गई थी उस बलिदान भूमि पर गौरव कलश यात्रा का समापन होकर पूरे म.प्र. के
आदिवासी लाखों की संख्या में पहुंचेंगे A
टंटया मामा को नमन करेंगें। उसी दिन प्राचीन पातालपानी रेल्वे स्टेशन का
नाम टंटया भील के नाम से किया जाएगा।  जन्मभूमि से मिट्टी के कलश यात्रा
का रात्रि विश्राम सिंगोट में हुआ 28 नवंबर रविवार को सिंगोट से यह
यात्रा राजनी,बखार,खार,खालवा,कालाआम,आशापुर,जोगीबेड़ा ,रजूर,खेड़ी होते हुए
खंडवा विधानसभा पहुंचीA गांव-गांव में इस यात्रा का पुष्पवर्षा एवं कलश
की पूजा कर लोगों ने स्वागत किया। साथ ही गांवों में आदिवासी भाई-बहनों
ने ढोल-ढमाकों के साथ नृत्य करते हुए गौरव कलश यात्रा का स्वागत किया।
वही सभास्थल पर कन्यापूजन भी मंत्री विजय शाह एवं अतिथियों द्वारा किया
गया। इस अवसर पर गौरव कलश यात्रा में विधायक राम दांगोरे,,,सहायक आयुक्त
विवेक पांडे सहित अन्य कार्यकर्ता उपस्थित थे।