बाढ़ प्रभावित 15580 परिवारों को 3 करोड़ 18 लाख 92 हजार 700 रूपए की आर्थिक सहायता का वितरण

सौरभ तिवारी

होशंगाबाद २९ अक्टूबर ;अभी तक; जिले में 28 एवं 29 अगस्त को हुई अतिवृष्टि एवं बाढ़ के कारण होशंगाबाद जिले में प्रभावित हुए 15880 परिवारों को   प्रशासन द्वारा शीघ्र आर्थिक सहायता पहुंचाते हुए खाद्यान्न, कपड़ा, बर्तन  क्षति के लिए कुल 3 करोड़18 लाख 92 हजार 700 रूपए की आर्थिक सहायता का वितरण किया गया है।  उक्त आर्थिक सहायता आरबीसी 6-4 के तहत स्वीकृत की गई है।

कलेक्टर होशंगाबाद धनंजय सिंह के निर्देशन में जिले में बाढ़ से प्रभावित हुए ग्रामीण एवं शहरी क्षेत्रों में प्रभावित हुए लोगों के मकान, खाद्यान्न व समान का युद्ध स्तर पर सर्वे उपरांत तेजी से राहत राशि का वितरण किया गया है।

डिप्टी कलेक्टर सुश्री भारती मेरावी ने  जानकारी देते हुए बताया कि जिले में अतिवृष्टि एवं बाढ़ से मकान क्षति एवं खाद्यान्न, कपड़ा, बर्तन क्षति का आंकलन कर आरबीसी 6-4 के तहत प्रभावितों को आर्थिक सहायता स्वीकृत की गई है। बताया गया कि खाद्यान्न, कपड़ा, बर्तन क्षति के लिए प्रभावित 15580परिवारों को 3 करोड़ 18 लाख 92  हजार 700 रूपए की आर्थिक सहायता आरबीसी 6-4 के तहत उपलब्ध कराई गई है ।

उन्होंने बताया कि होशंगाबाद नगर में  खाद्यान्न, कपड़ा, बर्तन क्षति के लिए 9565 परिवारों को  47 लाख 35 हजार 200 रुपए की आर्थिक मदद उपलब्ध कराई गई है। इसी तरह होशंगाबाद ग्रामीण में खाद्यान्न, कपड़ा, बर्तन क्षति के लिए 2223 परिवारों को 1 करोड़ 11लाख 10 हजार रुपए , तहसील इटारसी  में1132 परिवारों को 28 लाख 90 हजार रुपए, तहसील पिपरिया में 577 परिवारों को 44 लाख 79 हजार 800 रुपए, तहसील बनखेड़ी   में 184 परिवारों को 9 लाख 20 हजार रुपए,  तहसील बाबई  में 292  परिवारों को 10 लाख 76 हजार 200 रुपए,तहसील सोहागपुर  में 778 परिवारों को 25 लाख 36 हजार700 रुपए,  तहसील डोलरिया   में  322 परिवारों को 16 लाख9 हजार 800 रुपए, तहसील सिवनी मालवा  में 507 परिवारों को 25 लाख 35 हजार रुपए,  की आर्थिक सहायता मुहैया कराई गई है।

उल्लेखनीय है कि जिला प्रशासन द्वारा युद्धस्तर पर सर्वे कार्य किया गया। तदुपरांत रिकार्ड समय में आरबीसी 6-4 के तहत बाढ़ से क्षति ग्रस्त हुए मकानो एवं कपड़ा, खाद्यान्न एवं बर्तन आदि की क्षति के लिए उक्त सहातया राशि एवं प्रति परिवार 50किलो खाद्यान्न उपलब्ध कराया गया है।

 


Related Articles

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *