बायपास पर घायल साइबेरिन हिम सारस की हुई मृत्यु, अंतिम संस्कार 

5:05 pm or September 14, 2020
बायपास पर घायल साइबेरिन हिम सारस की हुई मृत्यु, अंतिम संस्कार
म्महवीर अग्रवाल
मन्दसौर १४ सितम्बर ;अभी तक;   पशु व पक्षी प्रेमी ओम बड़ोदिया  को बायपास रोड़ एक स्कूल के टीचर अंकित मोड़ से सूचना मिली की उनके स्कूल के पास एक विदेशी पक्षी घायल अवस्था में पड़ा है।
                 ओम बड़ोदिया ने उसके लिये वन विभाग से सम्पर्क किया और उक्त स्थल पर अपनी टीम के साथ पहुुचे। उन्होंने देखा कि घायल पक्षी सायबेरियन हिम सारस है तथा उसका एक पैर पुरा टूटा हुआ है तथा वह बुरी तह घायल हो गया है। उन्होंने उसे उपचार के लिये ले जाना चाहा लेकिन वह मृत हो चुका था। श्री बड़ोदिया ने बताया कि पक्षी के पैर की हालत देखकर लग रहा था कि उसे 2-3 दिन पूर्व चोट आई हुई है तथा या तो वह किसी से टकराकर घायल हुआ है या किसी ने उसका शिकार करने की कोशिश की है।
हिम सारस के मृत शरीर का ओम बड़ोदिया और उनके साथ अंकित मोड़, दिलीप जाटव, विजय आंजना, लक्की माली, धर्मेन्द्र प्रजापत, विष्णु परिहार, गोपाल परिहार, मनीष देवड़ा, कालू सेन, विनय खेतरा, रिपांशु गर्ग, नरेन्द्र आदि ने उसका अंतिम संस्कार किया।
साइबेरियन पक्षी है हिम सारस
                ओम बड़ोदिया ने बताया कि हिम सारस जिसे व्हाईट क्रेन या स्नो क्रेन के नाम से भी जाना जाता है। यह साइबेरियन पक्षी है। यह बर्फ जैसे सफेद होते है। इनकी आबादी पश्चिमी एवं पूर्वी रूस के आर्कटिक टुंड्रा में मिलती है। यह मंदसौर में उड़कर आ जाते हैं अक्सर तेलिया तालाब में यह दिखाई देते है।

Related Articles

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *