बिना एसडीएम की अनुमति के गोदामों से परिवहन नहीं किया जाए

सौरभ तिवारी

होशंगाबाद २७ दिसंबर ;अभी तक;   सभी शासकीय और निजी वेयर हाउस से एसडीएम की अनुमति के बिना धान मिलिंग सहित अन्य कार्यों के लिए परिवहन नहीं किया जाए। सभी एसडीएम वेयर हाउस से निकलने वाले वाहनों की पूरी जानकारी संधारित करें। जिससे किसी भी प्रकार की अनियमितता धान खरीदी में न हो। इसकी प्रतिदिन मॉनिटरिंग की जाएगी। यह निर्देश कलेक्टर होशंगबाद नीरज कुमार सिंह ने सोमवार को कलेक्टोरेट सभाकक्ष में आयोजित समय सीमा की बैठक में दिए।

कलेक्टर श्री सिंह ने धान उपार्जन की अनुविभागवार विस्तृत समीक्षा कर सभी एसडीएम एवं उपार्जन कार्य से जुड़े अधिकारियों को निर्देश दिए कि खरीदी केंद्रों से परिवहन व्यवस्थित रूप से जारी रहे। परिवहन और भुगतान में तेजी लाएं। स्वीकृति पत्रक जारी होने पर किसानों को 3 दिन के अंदर भुगतान किया जाए। उन्होंने कहा कि खरीदी केंद्रों पर किसानों को कोई असुविधा ना हो इसका विशेष ध्यान रखें। केंद्रों पर बारदाने सहित अन्य लॉजिस्टिक्स की पर्याप्त उपलब्धता सुनिश्चित करें। खरीदी से संबंधित किसी भी प्रकार की समस्या उत्पन्न होने पर उनका त्वरित निराकरण करें। जिला आपूर्ति नियंत्रक ने बैठक में बताया कि अभी तक 27634 किसानों को एसएमएस भेजे जा चुके हैं, जिसके विरुद्ध 12084 किसानों से124125 मीट्रिक टन की खरीदी हो चुकी हैं, जिसमें से 115775मीट्रिक टन परिवहन किया जा चुका हैं,जो कुल खरीदी का 93प्रतिशत है।

कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कि कोविड के रोकथाम के लिए शासन द्वारा जारी गाइडलाइन का कड़ाई से पालन किया जाए। मास्क के उपयोग के लिए पुनः जन जागरूकता अभियान चलाने के साथ जुर्माने की कार्यवाही करें। उन्होने कहा कि सभी नगरीय निकायों में माइकिंग के माध्यम से भी कोरोना से बचाव की जरूरी सावधानियों का प्रचार प्रसार किया जाए।

कलेक्टर श्री सिंह ने बैठक में सीएम हेल्पलाइन की शिकायतों की भी विभागवार समीक्षा की। उन्होंने कहा कि सभी विभाग सीएम हेल्पलाइन की शिकायतों का संतुष्टिपूर्ण निराकरण करें। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग, वित्त विभाग, सामान्य प्रशासन, राजस्व को शिकायतों के निराकरण में विशेष ध्यान देने के निर्देश दिए। कलेक्टर श्री सिंह ने सभी मुख्य नगरपालिका अधिकारियों को निर्देश दिए कि वह भिक्षावृत्ति कार्य में संलग्न लोगों को चिन्हित कर उन्हे राशन का वितरण सुनिश्चित कराएं।

निर्देश

बैठक में जिला शिक्षा अधिकारी को दुर्घटना के आशंका के दृष्टिगत  ऐसे स्कूल भवन जो जर्जर हो चुके हैं, उन्हे चिन्हित कर पीडब्ल्यूडी की अनुशंसा पर डिसमेंटल कराने के निर्देश दिए गए। सड़क सुरक्षा समिति में लिए गए निर्णय अनुसार सभी निर्धारित मार्गो पर तकनीकी मापदंडों के अनुरूप शीघ्र स्पीड ब्रेकर बनाने के निर्देश संबंधित निर्माण विभाग को दिए गए। एसडीएम होशंगाबाद, आरटीओ एवं नगरपालिका को होशंगाबाद शहर के बस स्टैंड से अतिक्रमण हटाने और उसे व्यवस्थित करने के निर्देश दिए। टीकाकरण से शेष नागरिकों का शत प्रतिशत टीकाकरण करने  के निर्देश सीएमएचओ को दिए गए। जिला स्वास्थ्य अधिकारी को निर्देशित किया गया की प्रशिक्षण सहित सभी आवश्यक व्यवस्थाएं सुनिश्चित कर निर्धारित सभी 6 उप स्वास्थ्य केंद्र पर 10 जनवरी से प्रसूति केंद्र चालू कराएं। सभी अधिकारियों को समय सीमा के प्रकरणों का त्वरित निराकरण के लिए सख्त हिदायत दी गई। जनसुनवाई में प्राप्त आवेदनों का समय पर निराकरण करने के लिए सभी विभागों के अधिकारियों को निर्देशित किया गया।

बैठक में जिला पंचायत सीईओ मनोज सरियाम एवं सभी विभागों के जिला अधिकारी मौजूद रहे।