बुरहानपुर के पुलिस अधिकारी अभिषेक दीवान निंलबित किये गये

मयंक शर्मा 

खंडवा,3 दिसंबर ,अभीतक । मप्र सरकार ने बुरहानपुर एडिशनल एसपी  अभिषेक दीवान को निलंबित कर दिया है। उन्हें वर्ष 2014 में श्योपुर में दर्ज मामले में हाल ही में 11 साल बाद कोर्ट से 6 माह का सश्रम कारावास और अर्थदड से दंडित किया गया है।
एसपी  बुरहानपुर राहुल कुमार ने कहा कि सजा होने के बाद शासन ने दीवान के निंलबन की कार्रवाई की है। उन्हें 11 साल पहले श्योपुर  में पदसथ रहने के दौरान एक मामले में पेश परिवाद के आधार पर  मारपीट की धाराओं में दोषी पाया गया । श्योपुर के कोर्ट ने उन्हें 6 महीने के कारावास व, एक हजार रुपए का अर्थदंड से दंडित किया  है। श्योपुर जिले के सिरसौद गांव निवासी पूरन लाल के खिलाफ गांव के ही कजुरा आदिवासी ने हत्या के प्रयास के मामले में उसके खिलाफ परिवाद  दर्ज कराया था। परिवाद पेश करने के पहले पूरन लाल पुत्र के साथ रिपोर्ट दर्ज कराने थाना आवदा गया था, लेकिन उसकी रिपोर्ट थाना आवदा में दर्ज नहीं की बल्कि दोनों को थाने पर ही बिठा लिया। उसी दिन को अभिषेक दीवान इन्हें आवदा से थाना बड़ौदा ले आए। इसके बाद 3 दिन तक उनके साथ मारपीट की।
तीन दिन बाद उन्हें कोर्ट के सामने पेश किया। उससे पहले मेडिकल कराया गया, जिसमें बताया गया कि दोनों को चोट नहीं आई है। बावजूद अदालत ने दोनों का मेडिकल परीक्षण कराने का आदेश दिय।  जांच में इन्हें  चोटें आना पाया गया। परिवाद कई साल चला और गत दिनो श्योपुर के न्यायिक मजिस्ट्रेट प्रथम श्रेणी सौरभ सिंह की कोर्ट में अभिशेख  को दोषी करार देते हुये सजा
सुनाई थी।