बेखौफ जा रहे शिकारियों को मंडला पुलिस ने दबोचा, शेर की खाल चेहरा, नाखून पैरों के पंजें समेत जंगली सूअर के 4 बड़े दांत बरामद

10:33 pm or June 4, 2022

प्रहलाद कछवाहा

मंंडला 04 जून अभी तक.   जिले में वन्य प्राणियों का शिकार बेखौफ किया जा रहा है। जिससे जिले के जंगलों में विचरण करने वाले वन्य प्राणी सुरक्षित नहीं है। संबंधित विभाग इन शिकारियों पर लगाम लगाने में नाकाम साबित हो रहा है। जिससे इन शिकारियों के हौंसले बुलंद है। बता दे कि मंडला जिले की पुलिस को मुखबिर से सूचना मिली कि कुछ शिकारी वन्य प्राणियों का शिकार कर उनकी खाल और अंगों को बेचने के फिराक में विकासखंड बिछिया से मंडला की तरफ आ रहे है। सूचना पर तत्काल कार्रवाई करते हुए इसकी जानकारी वरिष्ठ अधिकारियों को दी गई। जिसके बाद मंडला पुलिस अपने एक्शन में आ गई और टीम बनाकर शिकारियों की घेरा बंदी कर पकड़ लिया गया।

                       जानकारी अनुसार थाना बम्हनी अंतर्गत अंजनिया पुलिस चौकी में शुक्रवार को मुखबिर द्वारा सूचना मिली कि सरही बिछिया की ओर से कुछ शिकारी शेर एवं अन्य जंगली जानवरों का शिकार कर मोटरसाइकिल में रखकर अवैध रूप से तस्करी करने वाले है। मुखबिर ने बताया कि शिकारियों के पास शेर की खाल, नाखून, दांत सूअर के दांत एवं अन्य महत्वपूर्ण अंग लेकर मंडला की ओर आ रहे हैं। सूचना मिलते ही चौकी प्रभारी द्वारा थाना प्रभारी बम्हनी नीलेश दोहरे एवं वरिष्ठ अधिकारियों को दी गई। अधिकारियों द्वारा  सूचना की सत्यता की जांच कर तत्काल कार्यवाही के लिए पुलिस दल बल के साथ भेजा गया।

घेरा बंदी कर पकड़े आरोपी :

                    पुलिस द्वारा घाटी अंजनिया हनुमान मंदिर के सामने हाईवे पर संदिग्ध मोटरसाइकिल चालकों की तलाशी अभियान प्रारंभ किया गया। जांच के दौरान दो मोटर साइकिल एमपी 52 एमसी 2925 एवं सीजी 09/4326 पर चार व्यक्ति बिछिया तरफ से आते दिखाई दिए। ये मोटर साईकिल सवार पुलिस को देखकर मोटरसाइकिल को रोककर भागने का प्रयास करने लगे। पुलिस द्वारा घेराबंदी करके इन आरोपियों को पकड़ा गया। इन आरोपियों की तलाशी लेने पर इनके दोनों बैगों से शेर की खाल चेहरा नाखून पैरों के पंजों समेत जीआई तार कुल्हाड़ी, जंगली सूअर के चार बड़े नुकीले दांत जिनकी कीमती  करीब दो  लाख  जप्त किया गया।

चार आरोपी पकड़े गए :

पुलिस ने आरोपियों से पूछताछ की, जिसमें आरोपियों  ने अपने माखन लाल यादव पिता लालजी यादव 40 साल निवासी ग्राम मंकी थाना बाजाग जिला डिंडोरी,  आनंद कुशराम पिता लालमैन 30 साल निवासी मेहदबानी जिला डिंडोरी, मनोज कुमार पंदराम पिता शोभा 32 साल निवासी करनजिया,  इतवारी पोशाम पिता धर्म सिंह 27 साल निवासी ग्राम सलवार थाना बाजाग जिला डिंडोरी का होना बताएं। इन आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया गया।  आरोपियों के विरुद्ध चौकी अंजनिया थाना बम्हनी में अपराध क्रमांक 331/22 धारा 2, 9, 39,  40, 48, 49, 51, 52 वन्य जीव संरक्षण अधिनियम 1972 के तहत अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना की जा रही है।
चार माह पहले किए थे शिकार:
आरोपियों से पूछताछ के दौरान बताया कि आज से करीब तीन-चार माह पहले जीआई तार से भलवानी के जंगल में फंदा लगाकर शेर का शिकार कर उसके शरीर से कुल्हाड़ी से काटकर उक्त अंगों को विक्रय करने के लिए निकाल लिए थे।  इसी प्रकार जंगली सूअर का शिकार कर उसके नुकीले दांत कीमती दामों में बेचने के लिए ले जा रहे थे, आरोपियों के संपर्क अन्य तस्करों व शिकारियों से उसके संबंध में विस्तृत पूछताछ की जा रही है।
आरोपियों को पकडऩे में इनकी रही भूमिका :
इस कार्रवाई में मंडला जिले में कान्हा टाइगर रिजर्व होने के कारण पुलिस अधीक्षक मंडला यशपाल सिंह राजपूत द्वारा नेशनल पार्क से लगे थाना एवं चौकी प्रभारियों को वन्यजीवों की सुरक्षा एवं संदिग्ध व्यक्तियों की लगातार चेकिंग करने के लिए समय-समय पर निर्देशित किया जाता है। जिसके परिणाम स्वरूप सुश्री आकांक्षा चतुर्वेदी एसडीओपी नैनपुर एवं नीलेश दौहरे थाना प्रभारी बम्हनी के मार्गदर्शन में उप निरीक्षक जसवंत सिंह राजपूत चौकी प्रभारी अंजनिया, सहायक उप निरीक्षक अशोक चौधरी, राजेश सराठे, प्रधान आरक्षक शिव शंकर राजपूत, उत्तम पटेल,  पूसूलाल पंचेश्वर, आरक्षक राजेश, सुनील ठाकुर, इसरार खान, विनोद पटेल, उत्तम कोठरिया, कीर्ति नगपुरे, राम प्रसाद नेताम, अनुपा साथ ही थाना बिछिया से प्रधान आरक्षक जय पांडे, आरक्षक हेमंत शिव, आरक्षक अरविंद द्वारा घेराबंदी कर आरोपियों को पकड़वाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है।
———————————-