ब्रह्मलीन मालवा की बेटी साध्वी देवाज्ञा को शांति यज्ञ के साथ दी गई श्रद्धांजलि

महावीर अग्रवाल
मन्दसौर ९ अक्टूबर ;अभी तक;  ग्राम सेमल्या हीरा निवासी श्री ईश्वरलाल पाटीदार (भगतजी) की बेटी राधा (मंगलजी) जो बचपन से ही अपने परिवार में आध्यात्मिक संस्कारों के पालन-पोषण होकर संस्कारित हुई 2015 में माता-पिता की आज्ञा और प्रेरणा से वर्तमान युग के योग महर्षि स्वामी रामदेवजी के कन्या गुरुकुल में शिक्षा प्राप्त करते हुए वर्ष 2018 में स्वामीजी से ही सन्यास दीक्षा ली और तब सुश्री राधा से देवाज्ञा के नाम से साध्वी के रूप में पहचान बनाई। देवाज्ञा गुरुकुल की वेद विद्या अन्य शास्त्रों का स्वाध्याय-अनुसरण-अनुकरण में अच्छी प्रकार पारंगत थी।
            साध्वी देवाज्ञा को स्वामीजी का पूरा आशीर्वाद, स्नेह प्राप्त था परन्तु इसे देवयोग और प्रारब्ध ही कहा जायेगा कि उन्होंने स्वेच्छा से शरीर त्याग कर ब्रह्मलीन हो गई।
               साध्वी देवाज्ञा की स्मृति में 7 अक्टूबर को साध्वीजी के गृह ग्राम सेमल्या हीरा में उनके निवास पर पतंजलि जिला इकाई मंदसौर द्वारा शान्ति यज्ञ का आयोजन किया गया। जिसमें पतंजलि प्रांतीय युवा संगठन प्रभारी श्री प्रेमराम पुनिया, पतंजलि योग संगठन जिला प्रभारी बंशीलाल टांक, भारत स्वाभिमान जिला प्रभारी महेश कुमावत, पतंजलि योग जिला प्रभारी श्रीमती सुशीला राठौर, स्वदेशी प्रभारी ब्रजमोहन सोनी एवं अनेक समाजबन्धु, रिश्तेदार सम्मिलित होकर यज्ञ सम्पन्न  होने के पश्चात् मौन श्रद्धांजलि दी गई।