भारत जोड़ो यात्रा के मप्र मे बुरहानपुर से झालावाड़ तक की सबसे महत्वपूर्ण  जिम्मेदारी सुभाष सोजतिया को

7:29 pm or November 27, 2022
महावीर अग्रवाल
मंदसौर २७ नवंबर ;अभी तक;  इसके नतीजे चाहे जो हो पर अब राहुल गांधी की भारत जोड़ो यात्रा देश भर में कांग्रेस और आवाम के लिए   जागरण का काम करती नजर आ रही है…कांग्रेस के कुनबे को राहुल की इस यात्रा से बड़ी शुरुआत और परिवर्तन की उम्मीद है..मध्यप्रदेश में इस यात्रा की आमद को लेकर कुछ अलग गणित इसलिए देखे जा रहे है कि पिछली कमलनाथ सरकार को गिराने को लेकर भाजपा पर मनी मसल पॉवर के जरिए  विधायकों की खरीद फरोख्त के आरोप ही नहीं लगे बल्कि आवाम ने इस सच को  महसूस भी किया..यहीं वजह है कि राहुल की मध्यप्रदेश  की यात्रा को अलग मायने से देखा जाकर यहां होने वाले आगामी चुनावों को बड़े परिवर्तन के रूप में भी कांग्रेस का कुनबा देख रहा है..इस यात्रा को लेकर राहुल और कांग्रेस के नीति नियामक आमूल चूल परिवर्तन के रूप में भी देख रहे है..कमलनाथ, दिग्विजयसिंह, मीनाक्षी नटराजन, सहित बड़े नेता इस यात्रा को लेकर जुनूनी तौर पर जुड़े हुवे हैं, इस यात्रा को लेकर राहुल भी एक अलग सक्षियत के रूप में नुमाया हो रहे है।
                          मध्यप्रदेश में इस यात्रा के प्रवेश होते ही जो उत्साह देखा गया वो ऐतिहासिक था  यात्रा के रूट में आवाम में भागीदारी ने भी इतिहास रचने जैसी स्थिति निर्मित कर दी बुरहानपुर से झालावाड़ (राजस्थान के डोंगरगांव) तक यात्रा का प्रबंधन परिवहन, पेयजल व्यवस्थाओं को लेकर कांग्रेस के लिए सदा मास्टर स्ट्रोक खेलने वाले पूर्व मंत्री सुभाषकुमार सोजतिया के जिम्मे आईसीसी सौंपी थी,  टीम सोजतिया ने इस प्रबंधन को  इस प्रकार डिजाइन किया की यात्रा के पूरा रूट सवराता चला गया ।
                                 कांग्रेस के चुनावी आयोजन हो या मंथन  शिविर उनकी परफार्मेंस देखते बनती है, सोजतिया जी कहते है आज वो जो है सब कांग्रेस ने ही उन्हें नवाजा हैं इसलिए पार्टी के लिए वो जितना करें उतना कम है, पिछले समय राहुल जी  सभा में भी सोजतिया को लाखों  की पब्लिक की सभा में जुटाई व्यवस्थाओं को लेकर आलाकमान ने उनकी टीम को सराहा था, भारत जोड़ों यात्रा की  प्रदेश में  एंट्री होने से राजस्थान के डोंगरगांव तक हुई व्यवस्थाओं को यात्रा में शरीक हुवे अखिल भारतीय व प्रदेश के नेताओं ने न सिर्फ सराहा बल्कि टीम सोजतिया की मानिट्रिंग में लगे महेंद्रसिंह गुर्जर,  यशवंत अग्निहोत्री,  (उज्जैन ) राकेश गिरजा, मनजीतसिह टुटेजा।  ” मनी” के काम को भी सराहा । मप्र कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष  कमलनाथ पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह सहित बड़े नेताओं ने भी  हुई व्यवस्थाओं को सराहा,  .
                                उल्लेखनीय है इस दौरानस् स्वय राहुल गांधी जब  प्रतिदिन अपनी यात्रा की समीक्षा करने के दौरान  जब उनके संज्ञान में आया कि बुरहानपुर से लेकर डोंगरगांव (राज) तक हर दो किमी पर पेयजल हेतु पानी की बोतलो की व्यवस्था के साथ   सभी महत्वपूर्ण नेताओ के लिये चाक चौबंद वाहनो की प्रतिदिन व्यवस्था की जा रही है। उल्लेखनीय हैं राहुल जी  की भारत जोड़ों यात्रा से जुड़ने वाले  दूसरे प्रदेशों से आने वाले बड़े नेताओं के साथ राहुल जी की एवं सुरक्षा व्यवस्था में चल रहे वाहनों की उपलब्धता एवं  प्रबंधन की जिम्मेदारी भी सुभाष सोजतिया को सौपी गयी है।