भिंड जिले के आलमपुर में खुलेआम बेची जा रही अवैध शराब

भिंड से डॉक्टर रवि शर्मा

भिंड ८ जून ;अभी तक; आबकारी विभाग और पुलिस की लापरवाही के कारण आलमपुर नगर में इन दिनों कंजर व्हिस्की के चरण से शासकीय ठेकेदारों की शराब बिक्री पर असर पड़ रहा है । दूसरी ओर शासन को हर माह लाखों रुपए राजस्व की हानि हो रही है ।

खास बात यह है कि नगर में कच्ची शराब पीने के साथ बड़ी मात्रा में बन रही बन भी रही है।  इसकी जानकारी पुलिस और आबकारी अधिकारियों को होने के बाद भी  उनके द्वारा कोई कार्यवाही नहीं की जा रही है । गौरतलब है कि नगर में एक तरफ जहां कंजर जाति के लोग कच्ची शराब नगर के बाढ़ खुले आम बेच रहे हैं वहीं दूसरी ओर उनके द्वारा बड़ी मात्रा में कंजर्विस की बनाई हुई जा रही है रोजाना नगर के बाहर गैस एजेंसी के पास कंजर जाति की महिलाओं के द्वारा पॉलिथीन में कच्ची शराब बेची जा रही है जानकारी के अनुसार महिलाओं के द्वारा 180ml कच्ची शराब की पॉलिथीन 25 से ₹30 के बेची जाती है एक तरफ सभी समाज के लोग शराब पर अंकुश लगाने के लिए लोगों को प्रेरित कर रहा है जिससे लोग नशा से मुक्ति पा सके दूसरी ओर नगर में सस्ते दामों में अवैध शराब मिल रही है जिसकी वजह से लोग शराब की लत को छोड़ नहीं पा रहे