मंगलवार को हुई ओलों की बारिश चोपना, भैंसदेही, झल्लार और बोरदेही क्षेत्र में ओलावृष्टि से हुआ नुकसान

6:24 pm or December 28, 2021

मयंक भार्गव

बैतूल २८ दिसंबर ;अभी तक;  जिले में मंगलवार दोपहर बाद अचानक मौसम में आए परिवर्तन के बाद तेज गरज और चमक के साथ जहां आकाशीय बिजली गिरी वहीं ओलो की भी खूब बारिश हुई जिससे मूलत: सब्जियों की फसल को खासा नुकसान हुआ है। ओलावृष्टि के दौरान कहीं ओलों का आकार छोटा था तो कहीं बेर के आकार में भी ओले गिरे हैं। जिले के बोरदेही, भैंसदेही, झल्लार और चोपना क्षेत्र में बारिश के साथ ओले गिरे हैं। खासकर बोरदेही क्षेत्र में तो खेतों और घरों के सामने ओलों का ढेर लग गया था।

प्राप्त जानकारी के अनुसार दोपहर में करीब 1 बजे से झल्लार, भैंसदेही, चोपना और बोरदेही सहित आसपास के क्षेत्र में तेज बारिश हुई। यही नहीं इन स्थानों पर ओलावृष्टि भी हुई। कुछ देर चना के आकार के ओले यहां गिरे। बोरदेही में काफी अधिक ओलावृष्टि हुई है। यहां पर घरों के सामने और खेतों में ओलों का अंबार लग गया था। झल्लार में आज साप्ताहिक बाजार लगता है। यहां दुकानें लग चुकी थी और इसी बीच बारिश और ओलावृष्टि होने से बाजार में अफरातफरी का माहौल बन गया। दुकानों पर डले पाल और पन्नियां भी बारिश और तेज हवाओं में उड़ गए या फिर फट गए। इससे दुकानदारों को खासा नुकसान उठाना पड़ा। कई दुकानों में रखा सामान खराब हो गया। ओलावृष्टि से सबसे अधिक नुकसान सब्जियों की फसलों को हुआ है।