मंत्री श्री डंग एवं विधायक सिसोदिया ने रोजगार दिवस के अवसर पर 28 हजार 136 प्रकरणों में 17791 लाख का हितलाभ वितरित किया

11:26 am or November 5, 2022
महावीर अग्रवाल
मंदसौर ५  नवंबर ;अभी तक;  प्रदेश के साथ-साथ जिले में एक जिला एक उत्पादस तथा रोजगार विधिक साक्षरता दिवस पर कार्यक्रम संजय गांधी उद्यान में आयोजित किया गया। प्रदेश स्तरीय कार्यक्रम पीथमपुर में आयोजित किया गया। पीथमपुर से माननीय मुख्यमंत्री श्री शिवराज सिंह चौहान के लाइव प्रसारण को संजय गांधी उद्यान में देखा और सुना गया। इस कार्यक्रम में नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा तथा पर्यावरण विभाग के मंत्री श्री हरदीप सिंह डंग तथा मंदसौर विधायक श्री यशपाल सिंह सिसोदिया ने संजय गांधी उद्यान से 28 हजार 136 प्रकरणों में 17791.82 लाख रुपए का लाभ हितग्राहियों को वितरित किया। यह हितलाभ प्रधानमंत्री मुद्रा योजना, प्रधानमंत्री रोजगार सृजन कार्यक्रम, मुख्यमंत्री उद्यम क्रांति योजना, प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना, राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन ग्रामीण एवं शहरी, मुख्यमंत्री ग्रामीण पथकर विक्रेता योजना अंतर्गत किया गया। कार्यक्रम के दौरान श्री नानालाल अटोलिया सहित जिला एवं जनपद पंचायत के सदस्य, जनप्रतिनिधि, सीईओ जिला पंचायत, जिला रोजगार अधिकारी, महाप्रबंधक उद्योग विभाग सहित अन्य सभी जिलाधिकारी, बड़ी संख्या में हितग्राही, समूह की महिलाएं, पत्रकार मौजूद थे।
                                     इस अवसर पर मंत्री श्री डंग द्वारा कहा गया कि जनपद पंचायत स्तर पर एक प्रशिक्षण आयोजित किया जाए। जिसमें ग्रामीण क्षेत्र से आने वाले लोगों को सरकार की सभी योजनाओं के बारे में बताया जाए। जिससे अधिक से अधिक लोग शासन की योजनाओं का लाभ प्राप्त कर सके। अब किसानों को पारंपरिक खेती के अलावा तकनीकी शिक्षा पर भी ध्यान देना चाहिए। इसके साथ ही कृषि के अलावा अन्य तरह के बिजनेस/ व्यवसाय भी करना चाहिए। रोजगार मेलों के माध्यम से हर माह युवाओं को रोजगार प्राप्त हो रहा है। इस रोजगार मेले से परिवार मजबूत हो रहे हैं। बिजली पर भी सरकार के द्वारा बेहतर सब्सिडी प्रदान की जा रही है। जिले में स्व सहायता समूह के द्वारा बेहतर काम किया जा रहा है।
                                     मंदसौर विधायक श्री सिसोदिया द्वारा कहा गया कि आज रोजगार मेले में 12 कंपनियों के द्वारा युवाओं को रोजगार प्रदान किया गया। 12 कंपनियों को कुल 700 पदों के लिए रोजगार की आवश्यकता थी। जिसमें से अभी तक 400 लोगों के द्वारा आवेदन दिए गए। प्रसन्नता की बात है, कि अब जिले में मेडिकल कॉलेज बन रहा है। शिक्षा के नए-नए क्षेत्र उदय हो रहे हैं। अब मेडिकल की पढ़ाई भी हिंदी माध्यम से होगी। यह सरकार का बहुत बड़ा निर्णय है। उन्होंने विशेष तौर पर कहा कि सभी लोग आयुष्मान कार्ड जरूर बनाएं। अगर पड़ोसी का आयुष्मान कार्ड नहीं बना है, तो उसको आयुष्मान कार्ड बनाने के लिए प्रेरित करें।
                                             कलेक्टर श्री गौतम सिंह द्वारा कहा गया कि एक जिला एक उत्पाद एवं रोजगार दिवस का कार्यक्रम आज मेले के माध्यम से आयोजित किया गया। जिले में उद्यानिकी फसलें एवं बागवानी प्रमुखता से उगाई जाती हैं। जिसमें मुख्य रुप से संतरा, अमरुद की खेती की जाती है। लहसुन फसल लगभग 20 हजार हेक्टेयर में होकर लगभग 2 लाख मेट्रिक टन उत्पादन होता है। लहसुन उत्पादन के प्रसंस्करण हेतु जिले में 3 खाद्य प्रसंस्करण इकाइयों की स्थापना की गई। लहसुन पाउडर प्रसंस्करण के अंतर्गत लहसुन पाउडर, लहसुन चिप्स, लहसुन फ्लेक्स, लहसुन तैल के साथ ही लहसुन अचार, लहसुन चटनी, पेस्ट की इकाई जिले में कार्यरत हैं।