मध्यप्रदेश अक्षय ऊर्जा के क्षेत्र में नवीन कीर्तिमान स्थापित करेगा – मंत्री श्री डंग

महावीर अग्रवाल
मंदसौर 10 मार्च ;अभी तक;  ऊर्जा दक्षता कार्यक्रम के अंतर्गत जिले के 38 शासकीय स्कूलों में एनर्जी क्लब योजना अंतर्गत प्रत्येक स्कूल में 09 वॉट के 16 बल्ब, 20 वॉट की 05 एल०ई०डी० ट्यूबलाईट एवं 50 वॉट के 03 स्टार रेटिंग सिलिंग फैन उत्कृष्ट विद्यालय सुवासरा एवं सीतामऊ में कार्यक्रम के दौरान नवीन एवं नवकरणीय ऊर्जा एवं पर्यावरण विभाग के मंत्री श्री डंग द्वारा प्रदान किये गए।
इस अवसर पर मंत्री श्री डंग द्वारा ऊर्जा संरक्षण व ऊर्जा बचत के लिए सभी को कार्यक्रम में संकल्प दिलवाया। उन्होंने बताया कि अतिशीध प्रारभ होने वाली नीमच, आगर एवं शाजापुर में 1500 मेगावॉट सोलर पार्क परियोजना के अतिरिक्त, मुरैना छतरपुर में प्रस्तावित 1400 मेगावॉट सोलर पार्क परियोजना एवं ओकारेश्वर में नर्मदा नदी पर प्रस्तावित 600 मेगावॉट के फलोटिंग सोलर प्लांट परियोजना के वर्ष 2023 तक पूर्ण होने के बाद पर्यावरण में हो रहे प्रदूषण में कॉफी कमी होगी एवं मध्यप्रदेश ऊर्जा के क्षेत्र में अधिक प्रगति करेगा।
कुसुम “अ”, कुसुम “ब’ एवं कुसुम स” योजना में किसानो को उनकी भूमि पर सोलर पैनल की स्थापना से होने वाले फायदों के बारे मे भी विस्तार से बताया गया। ब्यूरो ऑफ एनर्जी एफीशियंसी, भारत सरकार द्वारा स्कूलों के छात्र-छात्राओं में ऊर्जा संरक्षण व ऊर्जा प्रबंधन के माध्यम से ऊर्जा दक्षता को बढ़ावा देने के लिए सुवासरा विधान सभा क्षेत्र से एनर्जी क्लब योजना को प्रारंभ करते हुये मंदसौर जिले के शासकीय स्कूलों में एनर्जी क्लब ” का गठन किया गया है। जिससे कि जिले की सभी तहसीलों में चयनित स्कूलों में एनर्जी क्लब गठन करके ऊर्जा प्रबंधन हेतु छात्र/छात्राओं एवं उनके माध्यम से जन-जन तक जागरूकता फैलाई जायेगी। कार्यक्रम में जलसंरक्षण करने एवं स्वच्छता हेतु भी प्रेरित किया। इन्दौर की तर्ज पर सुवासरा विशान सभा क्षेत्र के सभी रहवासियों को एक साथ मिलकर पहल करने का संदेश दिया। कार्यक्रम के दौरान जनपद पंचायत सुवासरा एवं सीतामऊ के अध्यक्ष व सदस्य सहित सभी जनप्रतिनिधि, सीतामऊ एसडीएम श्री संदीप शिवा, तहसीलदार, नायब तहसीलदार, बड़ी संख्या में स्कूल के बच्चे उपस्थित थे।

Related Articles

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *