मध्यप्रदेश के पन्ना में  जेके सेम सीमेंट फैक्टरी के खिलाफ किसानों ने खोला मोर्चा…

9:13 pm or December 26, 2021
पन्ना संवाददाता
पन्ना २६ दिसंबर ;अभी तक;   पन्ना में जेके सेम सीमेंट फैक्टरी के खिलाफ किसानों ने खोला मोर्चा खोल दिया है ओर वह धरना प्रदर्शन के लिए मजबूर हो गए है।
आज तीसरे दिन सिमरिया क्षेत्र के बोदा में किसानों का जंगी प्रदर्शन जारी रहा।पीड़ित किसानों नेजेके सेम प्रबंधन के खिलाफ जमकर  नारे लगाए।
                   फैक्टरी के प्रदर्शन कारी किसानों को अब शिवराज सरकार के पूर्व मंत्री डॉ. रामकृष्ण कुसमरिया का साथ मिल गया है।वह आज अडताल पर बैठे किसानों के बीच पहुचे ओर उन्होंने किसानों की पीड़ा को समझा और कहा कि-किसानों के साथ अन्याय नही होने देंगे,इस मामले में सीएम-पीएम से बात करनी पड़ी तो करेंगे । उन्होंने जेके सेम सीमेंट फैक्ट्री प्रबंधन द्वारा किसानों की खडी फसल पर जेसीवी चलाना ओर उनपर ही थाने में मामला दर्ज करना गलत है।
                  बतादें की बोदा गावँ के दर्जनों किसानों की खड़ी फसल पर जेसीबी चलाने से चना, मसूर ओर मटर की फसल बर्बाद हो गयी है।बतादे की तीन दिन पहले किसानों को बिना मुआबजा दिए फेक्टरी प्रबंधन द्वारा किसानों के खेतों में जबरन भारी भरकम मसीने उत्तर दी गयी थी।इन किसानों ने अपनी खड़ी फसल ओर जमीने बचाने के लिए अपने बच्चों और खुद किसान जेसीबी के सामने लेट गए थे।लेकिन फैक्टरी प्रबंधन और प्रसासन की हिटलर साही के चलते सिमरिया थाना में चार नाम जद्द किसानों  सहित करीव बीस अज्ञात किसानों पर मामला दर्ज किया गया है। जिससे किसान अब धरने पर बैठ गए है।बतादे की पुरैना में जेके सेम सीमेंट फैक्टरी एशिया की सबसे बड़ी सीमेंट फैक्टरी स्थापित हो रही है जिन्हें किसानों की जमीनों की आवश्यकता है।लेकिन किसान जमीन के बदले उचित दाम की मांग कर रहे है।