मध्यप्रदेश मानव अधिकार आयोग के माननीय अध्यक्ष न्यायमूर्ति श्री नरेन्द्र कुमार जैन ने *दो मामलों में संज्ञान* लेकर संबंधितों से समय-सीमा में जवाब मांगा है।

महावीर अग्रवाल
मन्दसौर / भोपाल  १० जनवरी ;अभी तक;  आयोग ने एसीएस हेल्थ, कलेक्टर व सीएमएचओ बड़वानी से एक माह में मांगा जवाब*
                    *जिला चिकित्सालय, बड़वानी में* बीते शनिवार की दोपहर प्रसूति गृह के बाहर रिकवरी रूम की पीओपी की छत गिर जाने के चलते एक गर्भवती महिला को चोट लग गई। जिला चिकित्सालय के सिविल सर्जन ने बताया कि प्रसूति गृह के बाहर रिकवरी रूम में इंतजाररत दो गर्भवती महिलाओं पर पीओपी से बनी छत गिर गई। उन्होंने बताया कि घटना के चलते जिले के ग्राम जोगवाड़ा निवासी एक गर्भवती महिला श्रीमती माया को सिर पर चोट आईं हैं। सीटी स्कैन से पता चला है कि उसे बाहरी चोट आई है। उनकी एक रिश्तेदार को भी मामूली चोट आई है। मामले में संज्ञान लेकर मध्यप्रदेश मानव अधिकार आयोग ने *अपर मुख्य सचिव, म.प्र. शासन, स्वास्थ्य विभाग, मंत्रालय, भोपाल सहित कलेक्टर, बड़वानी तथा मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, बड़वानी से एक माह में तथ्यात्मक जवाब मांगा है।
                   आयोग ने कलेक्टर, बड़वानी से पूछा है कि पीड़िता को क्षतिपूर्ति राशि दी गई है या नहीं ? साथ ही सीएमएचओ बड़वानी को प्रतिवेदन के साथ पीड़ित महिलाओं की इंज्यूरी रिपोर्ट भी भेजने के निर्देश दिये हैं।