मध्य प्रदेश केमिस्ट एंड ड्रगिस्ट्स एसोसिएशन के प्रयास रंग लाए फार्मासिस्ट पंजीयन की वैधता अब पुनः पाँच साल

अरुण त्रिपाठी

रतलाम,18 सितम्बर ;कभी तक ;  मध्य प्रदेश केमिस्ट एंड ड्रगिस्ट्स एसोसिएशन के प्रयासों से फार्मासिस्ट पंजीयन की वैधता अब पुनः पाँच साल कर दी गई है। इससे समस्त केमिस्ट एंड ड्रगिस्ट्स में हर्ष व्याप्त है।

जिला औषधि विक्रेता संघ के अध्यक्ष जय छजलानी, सचिव राकेश कोचट्टा, कोषाध्यक्ष विजय माहेश्वरी एवं प्रवक्ता अरुण त्रिपाठी ने बताया कि प्रदेश में गत 30-35 वर्षों से फार्मसिस्ट का नवीनीकरण 5 वर्षों के लिए होता था। ड्रग लायसेंस भी 5 वर्षों के लिए ही नवीनीकृत होता हैं, किंतु 2 वर्ष पूर्व फार्मासिस्ट का नवीनीकरण एक वर्ष के लिए किया जाने लगा था | मध्य प्रदेश केमिस्ट एंड ड्रगिस्ट्स एसोसिएशन ने इस मुद्दे को प्रदेश फार्मसी कोंसिल में उठाया था, जिसपर कौंसिल ने इसे पाँच वर्ष करने का अनुमोदन कर शासन को भेजा।

मध्य प्रदेश केमिस्ट एंड ड्रगिस्ट्स एसोसिएशन के अध्यक्ष गौतम चंद धींग, महासचिव राजीव सिंघल ने तत्कालीन प्रमुख सचिव स्वास्थ्य श्रीमती पल्लवी जैन गोविल एवं अन्य अधिकारियों से कई बार मुलाक़ात कर इससे आने वाली परेशानियों से अवगत करवाया। इससे हाल ही में शासन द्वारा इसका गजट नोटिफ़िक़ेशन कर इसे पुनः 5 साल के लिए कर दिया गया हैं। मध्य प्रदेश केमिस्ट एंड ड्रगिस्ट्स एसोसिएशन ने इस पर हर्ष जताते हुए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान एवं प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री प्रभु राम चौधरी का आभार माना है। कौंसिल अध्यक्ष ओम जैन, उपाध्यक्ष घनश्याम काकाणी, बसंत गुप्ता , सुभाष गुलाटी, देव कुमार बड़जात्या, प्रदीप चौरसिया एवं अन्य सदस्यों को धन्यवाद ज्ञापित करते हुए केमिस्ट एसोसिएशन के समस्त पदाधिकारी एवं समस्त फार्मासिस्टों ने इस ऐतिहासिक निर्णय का स्वागत किया है ।

Related Articles

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *