मनुष्य अपने जीवन मे विवके के महत्व को समझे.साध्वी डाॅ दिव्यप्रभाजी मसा

7:03 pm or November 24, 2021
महावीर अग्रवाल
मंदसौर २४ नवंबर ;अभी तक;  जैन धमर् हम सभी को विवके से रहने की प्रेरणा देता है। जैन धमर् को जो भी क्रियाये है उनमें विवके होता है। जीवन में यदि विवके है तो आज विषय वासना के गतर् में जाने से बच सकते है। जो भी सम्यकए ज्ञान दशर्न चारित्र  का पालन करता है वह विवके वान व्यक्ति कहलाता है।
                        उक्त उदगार परमपूज्य जैन साध्वी डाॅ दिव्यप्रभाजी मसा आदिठाणा 4 ने जीवागंज स्थित जनकुपुरा धमर्सभा में कहा कि जो लोग अधामीर् है हिंसा करते है पापकमर् करते है ऐसे लोगो को सोते रहना अच्छा है लेकिन जो लोग धामिर्क है सेवा सत्कार करते है । धमर् के मागर् पर चलते हैलोगो को सदैव जाग्रत रहना चाहिए। आपने कहा कि विवकेवान बनना है तो विवके वान व्यक्तियो की संगति करो जो लोग विवके नही रखते है तथा विवके वान व्यक्तियो की मजाक उडाते है वे भले ही आॅखो से सही देख सकते है लोग वे अंधे के समान है । आपने कहा कि सभी पक्षियो में हउ को श्रेष्ठ माना गया है क्योकि उसमें पानी व हाथ को अलग करने का गुण है लेकिन कौआ ऐसा पाक्षी है कि गंदगी में बैठना पसंद करता है। इसी कारण सभी उसमें धृणा करते है अथार्त जिस व्यक्ति में गुण होता है विवके होता है उसे यश प्रतिष्ठा मिलती है। लेकिन जो सही व गलत का भेद नही कर पाते है उन्हे धृणाा का ही पात्र बनना पडता है जिसके अंदर विवके दृष्टि है वही मानव श्रेष्ठ है । विवेकवान व्यक्ति पर भी रहे उसे यश प्रतिष्ठा स्वत ही प्राप्त हो जाती है । आपने कहा कि जिस व्यक्ति ने जन्म लिया है उसकी मृत्यु होगी ही यह अलट सत्य है। आपने गौतम बुद्धव भिक्षुणी गौतमी की कथा श्रवण कराते हुए कहा कि संसार में ऐसा कोई घर परिवारनही है जहाॅ पूवर् में किसी भी मृत्यु नही हुई हो जो जन्म लेता है उस जीव की मृत्यु होगी। आपने कहा कि जिस व्यक्ति में विवके होता हैवह जन्म व मृत्यु के रहस्य को जानता ही है।वह अनावश्यक शोक नही करता है। आपने कि मानव का जो ज्ञान विवके हैवह जीवन में प्रत्येक क्षण उसकता पथ प्रदशर्क करता है।
                      धमर्सभा में साध्वी श्री निरूपमाजी मसा श्री सौम्याजी मसा श्री आयार्जी मसा ने अपने विचार रखे। धमर्सभा में बडी संख्या में जनकुपुरा श्रीसंघ से जुडे श्रावक श्राविकाओ ने भी सहभागीता की ।धमर्सभ का संचालन जनकुपुरा श्रीसंघ प्रधानमंत्री श्री विजय खटोड ने किया । धमर्सभा में उपरांत प्रभावना का वितरण किया गयां।
                     आज तेजमल गांधी के नवीन निवास पर भक्ताम्बर पाठ होगा. आज दिनांक 25 नवम्बर गुरूवार को प्रात 8 से 9 बजे तक श्री तेजमल गांधी परिवार के नवीन निवास स्थान श्रीजी पाकर् काॅलोनी में साध्वी डाॅ दिव्यप्रभजी मसा के मुखराबिन्द से भक्ताम्बर का  पाठा होगा। तेजमल गांधी परिवार ने पधारने की विनती की है।

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *