मन्दसौर जिले के गांधीसागर में स्थित जल विद्युगृह से बिजली का उत्पादन शुरू

महावीर अग्रवाल
मंदसौर ११ सितम्बर ;अभी तक;  मंदसौर जिले के गांधीसागर में स्थित जल विद्युगृह से बिजली का उत्पादन शुरू हो गया है। यहां 5 जेनेरेटर लगे है जिनसे 115 मेगावाट बिजली का उत्पादन हो सकता है। अभी पांच नम्बर के एक जेनेरेटर से 6 मेगावाट बिजली का उत्पादन शुरू किया गया है।
               म.प्र.पावर जेनेरेटिंग कम्पनी के गांधीसागर में पदस्थ अतिरिक्त मुख्य अभियन्ता श्री संतोष कुमार विश्वकर्मा ने बताया कि गत वर्ष 2019 में सितम्बर माह में भारी वर्षा से पावर जेनेरेटिंग मशीनों को नुकसान पहुंचा था। यह गौरव की बात है कि इन मशीनों को मरम्मत कर एक जेनेरेटर को बिजली उत्पादन के लिये शुरू किया गया है। इसकी 23 मेगावाट बिजली उत्पादन की क्षमता है लेकिन अभी इससे 6 मेगावाट बिजली का ही उत्पादन शुरू किया गया है जिसे धीरे -धीरे  10,15 मेगावाट से बढ़ाकर इसकी पूरी क्षमता तक ले जाया जाएगा। वैसे एक टरबाइन से पूरी क्षमता से 23 मेगावाट बिजली का उत्पादन किया जाता है तो 2208 क्यूसिक पानी डेम से डिसचार्ज होता है लेकिन अभी 6 मेगावाट बिजली के उत्पादन में जो पानी टरबाइन से निकल रहा है उसी से बिजली बन रही है।
                  अतिरिक्त मुख्य अभियंता श्री विश्वकर्मा ने बताया कि आगे 2 टरबाइन से बिजली का उत्पादन शुरू करने से पहले उनका आधुनिकीकरण किया जाएगा। इस प्रकार  सभी 5 टरबाइन की मरम्मत जिनको की भारी बारिश से गत वर्ष नुकसान पहुचा था की जाकर उनका आधुनिकीकरण भी किया जाएगा। यह कार्य एक वर्ष में पूरा कर लिया जाएगा। अभी एक टरबाइन से बिजली का सफलतापूर्वक उत्पादन शुरू किया गया है इससे 15-20 दिन में प्रयास।किया जाएगा कि यह पूरी क्षमता से उत्पादन शुरू कर दे।

 

 

 

Related Articles

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *