मन्दसौर जिले में यूरिया पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध है

7:14 pm or November 8, 2022
महावीर अग्रवाल
    मन्दसौर ८ नवंबर ;अभी तक;     जिले में कलेक्टर जिला मन्दसौर के निर्देशन में रबी सीजन में फसल हेतु पर्याप्त खाद की व्यवस्था जिले के किसानों हेतु की गई है। सहकारी समिति बरखेड़ा नायक में 76 मे.टन, मल्हारएगढ़ में 74 मे.टन, एलची में 58 मे.टन, बोतलगंज में 58 मे.टन, चन्दवासा में 57 मे.टन, कचनारा में 55 मे.टन, बाबुल्दा में 55 मे.टन, खजुरी पंत में 54 मे.टन, बघुनिया में 53 मे.टन, नन्दावता में 49 मे.टन, बरखेड़ा गंगासा में 48 मे.टन,, निम्बोद में 46 मे.टन, भावगढ़ में 43 मे.टन, गुर्जर बर्डिया में 43 मे.टन, नेतावली में 43 मे.टन, दिपाखेड़ा में 42 मे.टन, भालोट में 41 मे.टन, तरनोद में 41 मे.टन, नीमथूर में 36 मे.टन, यूरिया खाद उपलब्ध है।
                                इसी प्रकार सहकारी समिति नान्दवेल में 34 मे.टन, करजू में 34 मे.टन, में गुड़भेली 33 मे.टन, कुचडोद में 34 मे.टन, ढाबला माधो में 32 मे.टन, क्यामपुर में 30 मे.टन, मेलखेड़ा में 31 मे.टन, रातीखेड़ी में 30 मे.टन, संधारा में 30 मे.टन, अंत्रालिया में 30 मे.टन, नाहरगढ़ में 29 मे.टन, बेहपुर में 28 मे.टन, बालागुढ़ा में 28 मे.टन, अफजलपुर में 28 मे.टन, देवरी में 28 मे.टन, गुजरदा में 27 मे.टन,, असावती में 27 मे.टन,, पहेड़ा में 25 मे.टन, धुंधड़का में 25 मे.टन, अमलावद में 24 मे.टन, भगोर में 22 मे.टन, कनघटी में 21 मे.टन, बर्डिया अमरा में 21 मे.टन, देहरी में 21 मे.टन, हतुनिया 20 मे.टन, भटूनी 19 मे.टन, साखतली 19 मे.टन, खजूरीनाग में 19 मे.टन, धारियाखेड़ी में 18 मे.टन, खाईखेड़ा में 19 मे.टन, धुआखेड़ी में 18 मे.टन, लसुडिया राठोर में 18 मे.टन, खजुरी गोड में 17 मे.टन, भानपुरा 16 मे.टन, मुल्तानपुरा में 16 मे.टन, देथली बुजूर्ग 15 मे.टन, पिपलिया कराडिया में 15 मे.टन, बोरदा में 14 मे.टन, टकरावद में 14 मे.टन, चिकनिया में 14 मे.टन, नावली में 14 मे.टन, शामगढ़ में 14 मे.टन, पानपुर में 13 मे.टन, बुढ़ा में 13 मे.टन, नरसिंगपुरा में 13 मे.टन, ढाबला मोहन 13 मे.टन, रिण्डा में 12 मे.टन, गरोठ में 11 मे.टन, उदपुरा में 11 मे.टन, सांजलपुर में 10 मे.टन, रेवास देवड़ा में 10 मे.टन, ऐरा में 10 मे.टन एवं संजीत में 10 मे.टन, यूरिया खाद उपलब्ध हैं।
                      इसी प्रकार सहकारी समिति सेदरामाता, सीतामऊ, बिल्लोद, पिपलिया जोधा, दसोरिया, बरखेड़ा, सातलखेड़ी, बरखेडा देव डुंगरी, लावरी, दोरवाड़ा, तितरोद, ढिकोला, बिलांत्री, नाटाराम तथा साताखेड़ी में 5 मे.टन से अधिक यूरिया खाद उपलब्ध है। सहकारी समिति खिलचीपुरा, बर्डिया इस्तमुरार, खेजडिया, भैंसोदा, गुराडिया नरसिंग, झार्डा, बिसनिया, लदुना, सुवासरा तथा अन्य समितियों में यूरिया खाद 5 मे.टन या कम होने से आगामी रैक से यूरिया भण्डारित कराया जा रहा हैं।
                  जिले में दलौदा तथा गरोठ रैक पाईंट पर चम्बल कम्पनी की एक-एक यूरिया की रैक आगामी 1-2 दिन में लगना प्रस्तावित है तथा दिनांक 10 नवम्बर को नीमच रैक पाईंट पर इफको कम्पनी की यूरिया रैक लगने से जिले में यूरिया की व्यवस्था है। कृषकों की आवश्यकता को देखते हुये नगद पर उर्वरक वितरण की व्यवस्था विपणन संघ के मन्दसौर, शामगढ़ तथा भानपुरा (लोटखेड़ी) केन्द्र पर, विपणन संस्था के मन्दसौर, पिपलिया मण्डी, सीतामऊ, सुवासरा तथा गरोठ केन्द्र पर तथा एम.पी. एग्रो के मन्दसौर केन्द्र पर की गई है। कृषक अपने रबी फसल के रकबे के आधार पर यूरिया एवं अन्य उर्वरक प्राप्त कर सकते है। यदि कृषक को उर्वरक मिलने में समस्या हो या उर्वरक संबंधी कोई शिकायत हो तो कृषक जिला स्तर पर स्थापित कंन्ट्रोल रूम (दूरभाष क्रमांक 07422 241452) नम्बर पर कार्यालयीन समय में सम्पर्क कर सकता है।