माँ शिवना शुद्धिकरण का अभियान महाराणा प्रताप जन्म दिवस के नाम बड़ी संख्या में राजपूत समाज श्रमदान करने पहुंचा 

6:05 pm or June 2, 2022
महावीर अग्रवाल 
मन्दसौर २ जून ;अभी तक;  लगातार 15 दिवस में शिवना शुद्धिकरण अभियान को शासकीय विभाग में सेवारत विभाग के कर्मचारी, प्रधानमंत्री सड़क योजना केे असिस्टेंट मैनेजर अपने 15 साथियों के साथ महाविद्यालय ने भागीदारी की पीडब्ल्यूडी एवं पीआईयू से बबीता सोनेकर, साधना बघेल, साधना मुजलदार, अजय कुमार जैन, शंभूलाल  गेहलोत, मनीष श्रीवास्तव, हेमराज मालवीय, खनिज विभाग से मैडम संेगर के नेतृत्व में डेढ़ घंटे तक श्रमदान किया गया। उत्साह के साथ मां शिवना के आंचल को साफ और स्वच्छ रखने की शपथ ली और एक ही मकसद भारत की समस्त नदियां साफ और स्वच्छ होना चाहिए यह हमारे जीवन का आर्थिक आधार के साथ हमारी जीवनदायिनी नदियां हैं। किया गया श्रम कभी बेकार नहीं जाता एक गंदगी तगारी यह भी निकाली जाती है तो यह निश्चित है कि जल के साथ न्याय कर रहे हैं। जल जीवन है, जल आर्थिक आधार है, जल के ऊपर संपूर्ण राष्ट्र के आर्थिक स्थिति टिकी है यदि आज हमने जल बचाया है तो हमारा भविष्य सुरक्षित है जल ही जीवन है इसको ऐसे ही नहीं कहा गया इसमें संपूर्ण सार समाया हुआ है।
                                  जिला राजपूत समाज महिला विंग की अध्यक्ष श्रीमती दुर्गेश कुवर भाटी अपने सभी बहन साथियों के साथ 2 जून महाराणा प्रताप जयंती के अवसर पर भारत के महान योद्धा भारतीय संस्कृति के गौरव प्रथम महान क्रांतिकारी के नाम से विख्यात राजपूत समाज के साथ ही संपूर्ण हिंदू समाज एवं राष्ट्र के गौरव महाराणा प्रताप की जयंती पर शिवना शुद्धिकरण अभियान में तगारी उठाते हुए एक ही नारा जब तक सूरज चांद रहेगा महाराणा तेरा नाम रहेगा, महाराणा का यह बलिदान याद रखेगा हिंदुस्तान, जय शिवा सरदार की जय महाराणा प्रताप की बुलंद नारों के साथ श्रमदान किया। इस दौरान अरविंद सिंह राठौड़ भी अपने साथियों के साथ पहुंचे इस महान अभियान में राजपूत समाज के सभी मातृशक्ति बहनों एवं भाइयों ने शपथ ली। महाराणा ने जिस प्रकार भारत को अपनी संस्कृति बचाने के लिए अपने स्वाभिमान के लिए कभी नहीं झुके। हम भी शपथ लेते हैं मातृभूमि की रक्षा के लिए नदियों की सुरक्षा के लिए और राष्ट्र के प्रत्येक सेवा कार्य को हम अपना कर्तव्य मानकर पूरा करेंगे और यह मां शिवना हमारे जीवन मंदसौर का संपूर्ण गौरवशाली इतिहास इस नदी पर आधारित है इसके समिति श्रवण नाला भी है। इस नदी से ही मंदसौर के साथ विश्व विख्यात प्रतिमाएं निकली है और मां शिवना से कम से कम 1500 गांव को जल प्रदाय होता है और हमारे मंदसौर क्षेत्र इसका जल जिसे पीकर हम पोषित है। इस जल के लिए प्रत्येक किया हुआ कार्य कभी बेकार नहीं जा सकता। इसके लिए नगर की जनता को अपने श्रम के साथ धन लगाकर इस धरोहर को बचाने के लिए आगे आना होगा। प्रशासनिक विभाग जो सहयोग कर रहा है उससे ज्यादा जनता को सहयोग करना होगा हम इस में गंदगी ना डालें और इस को बचाने के लिए अपने स्तर से प्रयास करें। प्रशासन का पूरा सहयोग करते हुए प्रतिदिन महाअभियान में अपनी भागीदारी करें आज इस शिवना मां का इतिहास लिखा जा रहा है। इतिहास के प्रत्येक पन्ने पर आज का किया हुआ क्रम भविष्य में याद किया जाएगा । इसके लिए आज खनिज विभाग पीडब्ल्यूडी विभाग, पीआईयू विभाग, जिला राजपूत समाज एवं नगर के समस्त सामाजिक संगठन अपनी भागीदारी करते हुए इस महाअभियान को आगे बढ़ा रहे हैं। इस अभियान में ठाकुर अरविंद  सिंह  खोडाना अध्यक्ष, कु शैलेन्द्र सिंह सिसौदिया  कोषाध्यक्ष , कु भारत  सिंह पंवार, कु बलवंत   सिंह  शकतावत, कु महेन्द्र सिंह सोलंकी, कु धारा  सिंह  सोनगरा
कु  योगेन्द्र  सिंह झाला,  श्रीमती पवांर निपानिया, श्री मती सोलंकी  रोजाना, बाल सेवक अनन्या   कुंवर राठौर, स्वरनिका कुंवर पवार,  श्री राजपूत महापंचायत जिला इकाई मंदसौर के सदस्यगण जिन्होंने वीर शिरोमणि महाराणा प्रताप सिंह  साहब के जन्म जयंती महोत्सव में सुबह शिवना शुद्धिकरण अभियान में उपस्थित होकर श्रद्धा सुमन श्रमदान कर अर्पित किए।
यह महाअभियान 12 जून तक चलेगा इसके लिए हर व्यक्ति अपने घर से निकल कर शिवनाथ तट पर पहुंचे हर समाधान कार्य करने से ही निकलता है और तर्क मन को संतुष्टि देने के लिए होता है आज शिवना तट पर एसडीएम श्री बिहारी सिंह नोडल अधिकारी, डॉ जे.के. जैन, सुनील  व्यास, नगरपालिका इंजीनियर आरसी तोमर समस्त श्रमदान के साथ पूरे नदी का अवलोकन किया गया और भी कार्य किया किया जा सकता है इस पर विशेष ध्यान दिया गया। बिहारी सिंह द्वारा कहा गया प्रशासन का लक्ष्य है कि इस शिवना नदी को पूर्ण रूप से संरक्षण प्रदान किया जाए गंदगी से मुक्त करने के प्रयास हर संभव किए जाएंगे। प्रशासन का मूल उद्देश्य मंदसौर की जीवनदायिनी नदी को पूर्ण रूप से संरक्षित करना है। भगवान पशुपतिनाथ सहस्त्र शिवलिंग महादेव के साथ पूरे भारत से यहां दर्शन करने वालों की भीड़ लगातार बढ़ी है इसके लिए इस नदी को भी पवित्र और शुद्ध बनाने का हमारा प्रयास रहेगा। खनिज विभाग की मैडम सेगर के नेतृत्व में संपूर्ण स्टाफ को लेकर शिवना तट पर डेढ़ घंटे तक श्रमदान किया गया समस्त स्टाफ ने बड़े उत्साह उमंग के साथ अपनी भागीदारी करी। राजपूत महापंचायत अरविंदसिंह राठौड़ अपने साथियों के साथ महाराणा प्रताप की जयंती पर अपना शिवना शुद्धिकरण अभियान एक ही मकसद हमारी मां शिवना जीवनदान के साथ संपूर्ण मंदसौर के विकास का आधार है इसके ऊपर हमें गर्व है गर्व से कहते हैं कि मंदसौर भगवान पशुपतिनाथ के निवासी हैं मैं अपने साथियों के साथ इस महा अभियान में भागीदारी करने के साथ गर्व महसूस करता हूं। यह जानकारी सत्येंद्र सिंह सोम ने दी।