मांसाहार और शराब की दुकान नगर में प्रतिबंधित किया जायें

10:22 pm or July 26, 2022

महावीर अग्रवाल

मंदसौर २६ जुलाई ;अभी तक;  महात्मा गांधी, गौतम बुद्ध, भगचान महावीर के देश में अब मांसाहार की दुकानें खुलेआम खुल चुकी है। मंदसौर के पूरे शहर में प्रत्येक मोहल्ले में मांसाहार की दुकानों की भीड लग गई है। लेकिन जिम्मेदार वर्ग और प्रशासन मौन है। नगर की लाचार जनता,  दशपुर जागृति संगठन अखिल विश्व गायत्री परिवार और नगर के कई सामाजिक संगठनों ने लगातार मांग की है शहर में मुख्य मार्गों पर संचालित होने वाली मांसाहार और शराब की दुकान पूर्ण रूप से प्रतिबंधित किया जाना चाहिए।

इन दुकानों को शहर से आधा किलोमीटर दूरी पर स्थापित की जाना चाहिए हमें कोई मतलब नहीं कौन क्या ग्रहण करता है लेकिन गौतम बुद्ध महावीर अहिंसा के पुजारी महात्मा गांधी के देश में आज यह सब कुछ आम पब्लिक के बीच में मुख्य बाजार में नयापुरा रोड, भगवान पशुपतिनाथ के मार्ग पर संजीत और सीतामऊ फाटक ऐसा कोई सा मोहल्ला बाकी नहीं है जहां यह मांस की दुकान खुले रूप से नहीं संचालित हो रही हो। और तो ओर अब क्रातिकारी शहीद उधमसिंह चैराहा भी इसकी चपेट मंे आ गया है।

शासन प्रशासन को कई बार इस संबंध में ज्ञापन भी दिया गया है लेकिन जनता केवल आवाज उठा सकती है पालन करवाना शासन के हाथ में है इसलिए सामाजिक संगठन ने मांग की है यदि यह निर्णय 10 दिन के अंदर नहीं लिया गया इसके लिए ज्ञापन के साथ ही गांधीजी के सामने अनशन भी किया जाएगा। बड़े दुख के साथ लिखना पड़ रहा है जैन मंदिर के सामने नयापुरा रोड पर सुबह से लेकर रात तक मीट की दुकान पर भीड़ लगी रहती है लेकिन फिर भी प्रशासन और शासन को नहीं दिख रहा है इसके लिए दशपुर जागृति संगठन, अखिल विश्व गायत्री परिवार मांग करता है मंदसौर के सांसद सुधीर जी गुप्ता, विधायक यशपाल सिंह जी सिसोदिया नगर पालिका पदेन अध्यक्ष कलेक्टर श्री गौतमसिंह और नगर के जागरुक पार्षद कहे जाने वालों से निवेदन है की तत्काल संज्ञान में लेकर मुख्य बाजार में मांस और शराब की दुकान हटाई जाना चाहिए नहीं तो आए दिन अपराध भी यहीं से पनपते हैं मंदसौर में इस हेतु अलग से मार्केट बनाए जाना चाहिए बिल्कुल भी शहर के मध्य इस प्रकार के कार्य करवाना यह हमारे शासन प्रशासन की निष्क्रियता का प्रमाण है जनता को दुख होता है सुबह वह भगवान के दर्शन करने जाते हैं उससे पहले यह व्यापार शुरू हो जाता हैं। इसलिए कलेक्टर महोदय तत्काल एक्शन लेकर अन्य स्थान पर स्थापित किया जाए यह जानकारी एडवोकेट सत्येंद्र सिंह सोम ने दी।