मां अगले जन्म में तेरा ही बेटा बनूंगा लिखकर ट्रेन से कट गया युवक

मयंक भार्गव

बैतूल १७ अक्टूबर ;अभी तक; मैं आकाश राठौर चिचोली मुझे किसी का कोई दबाव नहीं ना कोई टेंशन मैं अपनी मर्जी से खुदखुशी कर रहा हूं। मुझे माफ करना मां अगले जन्म में तेरा ही बेटा बनूंगा। उक्त चिट्ठी के साथ ही एक और चि_ी जेब में रखकर चिचोली निवासी 24 वर्षीय युवक सोनाघाटी के पास ट्रेन से कट गया। युवक का सिर अलग होकर दोनों पटरी के बीच में आ गया वहीं धड़ पटरी से बाहर फिका गई। मृतक ने अपने भाई का मोबाइल नंबर भी लिखा था। जिससे पुलिस को शिनाख्त करने में कोई परेशानी नहीं हुई। हालांकि मृतक के परिजनों ने शुक्रवार को चिचोली थाने में आवेदन देकर अपने पुत्र की हत्या की आशंका जताई है। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

सोनाघाटी के पास रेलवे ट्रेक पर गुरूवार को लगभग 4.30 बजे एक युवक का शव रेलवे ट्रेक पर मिला। युवक का सिर दोनों पटरियों के बीच था वहीं धड़ पटरी के किनारे था। रेलवे कर्मियों ने कोतवाली पुलिस को इसकी सूचना दी। कोतवाली टीआई संतोष पंद्रे ने बताया कि शव सोनाघाटी के पास अप ट्रेक पर किलोमीटर 849/1 पर मिला है। पुलिस के पहुंचने के पूर्व शव ट्रेक से हटाकर किनारे में रख दिया था। श्री पंदे्र ने बताया कि शव का पेंट उतरा हुआ था और मृतक की जेब में डायरी के दो पेज पर लाल पेन से लिखा सुसाइट नोट भी मिला है। जिसमें मृतक ने अपने भाई का मोबाइल नंबर भी लिखा था। वहीं दूसरे पेजल पर स्वयं की मर्जी से सुसाइड करने के साथ ही लिखा था कि मुझे माफ करना मेरा परिवार बहुत अच्छा है। मुझे जिंदगी जीने में मजा नहीं आ रहा था सबने मुझे बहुत प्यार किया- आकाश।

टीआई श्री पंद्रे ने बताया कि कोतवाली में मर्ग कायम कर शुक्रवार सुबह जिला अस्पताल में पीएम कर शव परिजनों को सौंप दिया है।  मृतक आकाश के चाचा के बेटे अंकित पिता दीपचंद राठौर ने 16 अक्टूबर को चिचोली थाने में आवेदन देकर आकाश की हत्या की आशंका जताई है। अंकित राठौर द्वारा दिए गए आवेदन में अवगत कराया है कि आकाश 15 अक्टूबर को दोपहर दो बजे घर से बिना बताए कहीं चला गया था। शाम तक घर नहीं आने पर परिजनों ने तलाश की लेकिन वह कही नहीं मिला। शाम को वाट्सएप पर उसकी फोटो आई जिसमें सिर अलग और धड़ अलग थी। अंकित ने बताया कि आकाश का पेंट भी उतरा हुआ था वहीं गर्दन के पास खून भी नहीं था। अंकित ने आशंका जताई कि किसी ने आकाश की हत्या कर शव रेलवे पटरी पर डाल दिया होगा। परिजनों ने पूरे मामले की विस्तृत जांच करवाने की मांग की है। बताया जा रहा है कि मृतक ड्रायवरी करता था और नगर में ही एक व्यवसायी के यहां ड्रायवरी करता था। कोतवाली टीआई संतोष पंद्रे ने बताया कि उन्हें परिजनों द्वारा दिए गए आवेदन की जानकारी नहीं है। यदि परिजन आरोप लगाएंगे तो सभी बिंदुओं पर जांच की जायेगी। फिलहाल मर्ग कायम कर जांच की जा रही है।

Related Articles

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *