देवेश शर्मा 

मुरैना . 23 अक्टूबर ;अभी तक; मध्यप्रदेश के मुरैना जिले के अंबाह क्स्वे में एक बेहद ही दिलचस्प मामला सामने आया है। यहां एक ढाई साल के बच्चे की अपने मामा से इस कदर तकरार हो गई कि बच्चा अकेला घर से आधा किमी. दूर पैदल चलकर थाने पहुंचा और मामा की शिकायत पुलिस से की। मामला अंबाह का है और मामा की शिकायत लेकर थाने पहुंचे बच्चे का नाम अरुण बताया जा रहा है। मासूम भांजे का कहना है कि उसकी मम्मी मामा के साथ रहती है और मामा उनसे लड़ाई करता है। इतना ही नहीं भांजे को मामा न्यौता खिलाने भी नहीं ले जाता है जिसकी शिकायत भी बच्चे ने पुलिस में की है।

मामा-भांजे की गजब तकरार

                              शनिवार को अंबाह पुलिस थाने में एक ढाई साल का मासूम बच्चा अकेले पहुंचा और अपनी पीड़ा बताई। बच्चे की बात सुनकर पुलिसकर्मी भी उसे अंबाह थाना प्रभारी जितेंद्र नगाइच के पास ले गए जिनके सामने बच्चे ने मामा की शिकायत दर्ज कराते हुए मामा को जेल में डालने की मांग की। बच्चे ने थाना प्रभारी से कहा कि उसका मामा लाखन उसकी मां से लड़ाई करता है और उसे न्यौता खिलाने के लिए भी अपने साथ नहीं ले जाता है और इसके लिए उसे जेल में डाल दो। बच्चे का मन रखने के लिए थाना प्रभारी ने भी कागज पेन लिया और बच्चे से उसका नाम व मामा का नाम पूछा। थाने पहुंचकर बच्चे के द्वारा मामा की शिकायत करने का वीडियो भी पुलिसकर्मियों ने बनाया है जो तेजी से वायरल हो रहा है।

                              यहां बता दें कि इससे कुछ दिन पहले  बुरहानपुर में भी इस तरह का एक दिलचस्प मामला सामने आया था। वहां महज 2 साल का एक बच्चा अपनी मां की डांट से नाराज होकर मां के खिलाफ शिकायत दर्ज कराने थाने पहुंच गया था। बच्चे का नाम हमजा था जिसने शिकायत करते हुए कहा था कि उसकी मां उसे चाकलेट नहीं दिलाती है और चाकलेट मांगने पर डांटती है इसलिए मम्मी को जेल में डालो। तब उसका वीडियो भी काफी वायरल हुआ था और प्रदेश के गृहमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने खुद वीडियो कॉल के जरिए बच्चे हमजा से बात कर उसे दीवाली पर चॉकलेट देने की बात कही थी। वीडियो कॉल के बीच में ही बच्चे ने गृहमंत्री से साइकिल की डिमांड भी की थी और इसके महज तीन घंटे बाद ही गृहमंत्री की ओर से बच्चे हमजा को दिवाली के तोहफे के तौर पर चॉकलेट भेजी थीं।