मासूम बच्‍ची के साथ कुकृत्‍य की कोशिश करने वाले आरोपी की जमानत निरस्‍त कर भेजा जेल

विधिक संवाददाता 

सीहोर १० जनवरी ;अभी  तक;न्‍यायालय द्वितीय सत्र न्‍यायाधीश श्रीमान् कंचन सक्‍सैना आष्‍टा, सीहोर के द्वारा अभियुक्‍त माखन‍ पिता हरलाल नि. लोरास खुर्द तह. आष्‍टा जिला सीहोर की धारा 376(a)(b) भादवि एवं धारा 5(m)/6  पॉक्‍सो में जमानत निरस्‍त।

अति0 जिला अभियोजन अधिकारी, देवेन्‍द्र सिंह ठाकुर द्वारा बताया गया कि फरियादी द्वारा थाना पार्वती में उपस्थित होकर शिकायत की घटना दिनांक को सुबह-सुबह मेरी 04 वर्ष की बच्‍ची तथा मेरे भाई के बच्चे खेत वाले कुए के पास खेलने गये थे। फरियादिया जब अपनी बच्‍ची   (अभियोक्‍त्री) को खाना खाने के लिए लेने गई तो उसने देखा कि कुए के पास जहाँ माल ढोर बंधते है वहाँ पर मेरी बच्‍ची (अभियोक्‍त्री) जमीन भर लेटी हुई थी तथा गांव का माखन मालवीय मेरी बच्‍ची के ऊपर था और उसकी धोती भी होती बिखरी हुई थी। फरियादिया को देखते ही माखन सिंह बच्‍ची के ऊपर से हट गया और धोती संभालने लगा फरियादिया के पूछने पर आरोपी भाग गया। तब बच्‍ची (अभियोक्‍त्री) ने बताया कि माखन ने उसके साथ कुकृत्‍य करने की कोशिश की और बोला कि तेरी मम्मी से या किसी से भी ये सब मत बताना। उसके बाद फरियादिया ने अपने भाई को सारी बात बताई। फरियादिया की उक्‍त शिकायत पर से थाना पार्वती में अपराध क्रमांक 538/21 अंतर्गत धारा 376 – ए बी भादवि एवं धारा 5(m)/6 पॉक्‍सो एक्‍ट पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया जाकर आरोपी को गिरफ्तार किया गया।

न्‍यायालय द्वितीय सत्र न्‍यायाधीश श्रीमान् कंचन सक्‍सैना आष्‍टा, जिला- सीहोर के द्वारा अभियुक्‍त माखन पिता हरलाल नि. लोरास खुर्द, आष्‍टा द्वारा न्‍यायिक अभिरक्षा में रहते हुए प्रस्‍तुत जमानत आवेदन पत्र को अभियोजन के तर्को से सहमत होकर निरस्‍त करने का आदेश पारित किया गया ।

शासन की ओर से पैरवी श्री देवेन्‍द्र सिंह ठाकुर, अति0 जिला अभियोजन अधिकारी आष्‍टा, सीहोर द्वारा की गई।