*मैं जली हुई राख नहीं , अमर दीप हूँ– जो मिट गया वतन पे ,मैं वो शहीद हूँ*  इस जज्बे से देश मे 2020 में शहीद 377 पुलिस जवानों को दी गयी सलामी

6:01 pm or October 21, 2021
*मैं जली हुई राख नहीं , अमर दीप हूँ-- जो मिट गया वतन पे ,मैं वो शहीद हूँ*  इस जज्बे से देश मे 2020 में शहीद 377 पुलिस जवानों को दी गयी सलामी
एस पी वर्मा
सिंगरौली 21 अक्टूबर ; अभी तक ;        *लहू देकर तिरंगे की बुलंदी को सवारा है- फरिश्ते हो तुम वतन के तुम्हे सजदा हमारा है* इस भाव व जज्बे से ओतप्रोत सिंगरौली एसपी कार्यालय परिसर में आयोजित शहीद स्मृति दिवस पर  *सिंगरौली कलेक्टर राजीव रंजन मीना व पुलिस अधीक्षक वीरेन्द्र कुमार सिंह*, सहित सभी थानों के टी आई ,पुलिस जवान, जनप्रतिनिधि ,पत्रकार व  कई गणमान्य लोगों ने  शहीद स्मारक  पर शहीदों को सलामी दे उन्हें श्रद्धा सुमन अर्पित किया।
      सिंगरौली पुलिस द्वारा आयोजित पुलिस शहीद स्मृति दिवस कार्यक्रम की शुरुआत शहीदों के नाम वाचन से हुआ। तत्पश्चात पुलिस शहीद स्मृति परेड निकाल कर  शहीदों को सलामी दी गयी। पुलिस शहीद स्मृति दिवस कार्यक्रम में पहुंचे *सिंगरौली कलेक्टर श्री मीना, एसपी श्री सिंह सहित भाजपा जिलाध्यक्ष वीरेंद्र गोयल, ननि अध्यक्ष चंद्रप्रताप विश्वकर्मा,  वरिष्ठ कांग्रेस नेता राम अशोक शर्मा, कांग्रेस प्रदेश सचिव अमित द्विवेदी, राम शिरोमणि शाहवाल, पूर्व सीडा उपाध्यक्ष नरेश शाह, भाजपा जिला उपाध्यक्ष सुंदर शाह, झिंगुरदः परियोजना के जीएम राजेन्द्र रॉय, ब्लॉक बी के जीएम हरीश दुहान, सी डब्लू एस जी एम संजय कुमार , अमलोरी सीएसआर प्रमुख अमरेंद्र कुमार, डॉ डीके मिश्रा, ए एसपी अनिल सोनकर, एसडीओपी राजीव पाठक, सीएसपी देवेश पाठक, कोतवाली टी अरुण पांडेय, मोरवा टी आई मनीष त्रिपाठी, नवानगर टी आई यू पी सिंह, विन्ध्यनगर टी आई रावेंद्र द्विवेदी, सरई टी आई संतोष तिवारी, माडा  टी आई नागेंद्र प्रताप सिंह , यातायात टी आई दीपेंद्र सिंह , आर आई आशीष तिवारी , दैनिक भास्कर के संपादक संदीप श्रीवास्तव, काल चिंतन के संपादक आर के श्रीवास्तव , पत्रकार , सभी थानों के टी आई ,चौकी प्रभारी व पुलिस जवानों* ने एक- एक कर शहीदो  स्मारक को सलामी दे श्रद्धा सुमन अर्पित किया।
*2020 में पूरे देश से 377 पुलिस हुए शहीद*
*मेरी धड़कनो में धड़कता रहे मेरे देश तुझको नमन है मेरा- जियूं तो जुबां पर तेरा नाम हो,मरूँ तो तिरंगा कफन हो मेरा*
गौरतलब है कि ड्यूटी के दौरान दिवंगत  पुलिस जवान को शहीद का दर्जा दिया जाता है और शहीद जवानों को श्रद्धा सुमन अर्पित करने हेतु प्रत्येक वर्ष पूरे देश मे 21 अक्टूबर को पुलिस  शहीद स्मृति दिवस मनाया जाता है। 2020 जनवरी से लेकर दिसम्बर तक कार्य के दौरान पूरे देश मे 377 जवान शहीद हुए हैं, जिन्हें श्रद्धा सुमन अर्पित करने पूरे देश के प्रत्येक जिले में पुलिस शहीद स्मृति दिवस का कार्यक्रम आयोजित कर शहीदों को सलामी दी गयी। 21 अक्टूबर 1959 में तिब्बत सीमा पर चीनी आक्रमणकारियों का मुकाबला करते वक्त सीआरपीएफ के 10 जवान एक साथ शहीद हो गए थे उसके बाद से पूरे देश मे एक साथ 21 अक्टूबर को पुलिस शहीद स्मृति दिवस का आयोजन कर शहीदों को सलामी व श्रद्धा सुमन अर्पित किया जाता है।कार्यक्रम का सफल संचालन सुरेंद्र पांडेय ने किया।