मोबाइल फोन के माध्यम से लॉटरी लगने के नाम पर धोखाधड़ी ;4 आरोपी गिरफ्तार

आनंद ताम्रकार

बालाघाट १५ जनवरी ;अभी तक;  जिले के विभिन्न पुलिस थानों में ऑनलाइन धोखाधडी एवं मोबाइल फोन के माध्यम से लॉटरी लगने के नाम पर अनेक मामले प्रकाश में आये है जिनके आधार पर पुलिस अधीक्षक अभिषेक तिवारी ने ऐसे मामलों पर कड़ी नजर रखने के लिये जांच टीमें गठित की है।

जिले के बैहर पुलिस थाने में शहनाज खान नामक महिला द्वारा 25 लाख रुपये की लॉटरी लगने के नाम पर झांसा देकर उनके खाते से 1.5 लाख रूपये ऑनलाइन के माध्यम से ठगी किए जाने की शिकायत दर्ज कराई थी जिसके आधार पर टीम द्वारा इलेक्ट्रॉनिक साक्ष्य मोबाइल साक्ष्य एवं बैंक के दस्तावेजों के माध्यम से जांच की गई जिसके आधार पर उपपुलिस अधीक्षक बैहर आदित्य मिश्रा के नेतृत्व मंे बैहर और मलाजखण्ड पुलिस के जांच दल ने उत्तर प्रदेश के जिला जालौन के कालपी से 4 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। आरोपियों के पास से ठगी करने में उपयोग में लाये गये मोबाइल फोन कीप्रेड मोबाइल, नगर राशि बरामद की है।

पुलिस ने दावा किया है की आरोपियों से पूछताछ में मध्य प्रदेश सहित अन्य राज्यों राजस्थान,उत्तर प्रदेश में ऑनलाइन के माध्यम से की गई ठगी की घटनाओं का पता चल सकेगा।

उपपुलिस अधीक्षक आदित्य मिश्रा ने अवगत कराया की जन सामान्य की अज्ञानता का फायदा उठाते हुए ऐसे लोगों को ठगी के शिकार बनाते थे जिन्हें पता नही होता की सीधे लाटरी भी लगती है।

1 लाख 50 हजार रुपये की ठगी के मामले में पुलिस ने उत्तर प्रदेश के कानपुर देहात जिला देवराइट थाना क्षेत्र के ग्राम चैन का निवासी 40 वर्षीय अवधेश कुमार यादव पिता भूप सिंह यादव जिला जालौन के कालपी थाना ग्राम लमसर के तिरही निवासी 30 वर्षीय पर्वत सिंह पाल पिता रामप्रकाश पाल ग्राम रीक्षरा निवासी आशीष पिता शिवकुमार यादव एवं रोहित कुमार पिता लोकराम यादव को गिरफ्तार किया है। जिनके पास से 3 एंड्राइड मोबाइल, 3 कीपैड मोबाइल,20 हजार रुपये नगर और सिम कार्ड बरामद किये है।