राज्य शिक्षक संघ म.प्र. जिला पंचायत सीईओ के मार्गदर्शन में करेगा सघन पौधारोपण

9:53 pm or June 12, 2021
राज्य शिक्षक संघ म.प्र. जिला पंचायत सीईओ के मार्गदर्शन में करेगा सघन पौधारोपण
महावीर अग्रवाल 
मन्दसौर १२ जून ;अभी तक;  राज्य शिक्षक संघ म.प्र. व जिला मंदसौर द्वारा विगत 5 जून विश्व पर्यावरण दिवस से अपने साथियों द्वारा अपने-अपने क्षेत्रों में ऐसे स्थान जहां जनमानस का ज्यादा ठहराव हो व वृक्षारोपण हेतु सुगम स्थान व सुरक्षा हो उन्हें प्राथमिकता से चिन्हित कर वर्षा ऋतु में पौधरोपण का संकल्प लिया गया जिसमें मंदसौर सहित प्रदेश के अनेक स्थानों पर पौधरोपण विश्व पर्यावरण दिवस से आरंभ किया गया। इस संबंध में राज्य शिक्षक संघ का एक प्रतिनिधि मण्डी जिला पंचायत सीईओ श्री ऋषव गुप्ता से भी मिलकर ‘‘सीड्स बॉल’‘ के माध्यम से पौधारोपण हेतु संघ की ओर से सहमति प्रदान की।
            संघ के प्रदेश अध्यक्ष जगदीश यादव व प्रांतीय महासचिव दिनेश शुक्ला ने उक्त आव्हान  अपने साथियों से करते हुए बताया कि आज संपूर्ण जनमानस में पर्यावरणीय परिस्थितियों को लेकर संशय व भय है जो अपने विगत दिनों संपूर्ण प्रदेश व देश की जनता ने महसूस किया था कि हर वह व्यक्ति जो कोरोना पाजीटिव था या अधिक संक्रमण की स्थिति निर्मित हुई तो सबसे ज्यादा तकलीफ शरीर में पर्याप्त ऑक्सीजन के स्तर का न होना सामने आया। जहां एक और हरे पेड़ (वृक्ष) हमारे जीवन का आवश्यक अंग है जो हमें मुफ्त छाया ऑक्सीजन फल, औषधि सहित कई लाभकारी पदार्थ उपलब्ध कराते है लेकिन कहीं न कहीं आज वातावरण में इनकी नगण्यता को नकारा नहीं जा सकता है। पुनः जंगल, वन व फलदार वृक्षों को अपने आसपास के परिवेश में स्थापित करना आसान नहीं है किन्तु असंभव भी नहीं है। अगर हम सभी जिस प्रकार अपने परिवार के संरक्षण के लिये जो दायित्व निभाते है। अगर हरे पेड़ (वृक्षों) की सुरक्षा का भी दायित्व संकल्पित भाव से निर्वहन करने की ठान ले तो वह दिन दूर नहीं कि हम अपने आसपास के उजड़े जंगल, जमीन या संकटग्रस्त वानस्पितक प्रजातियां जो कहीं न कहीं हमारे जीवन में महत्वपूर्ण है, जिनमें कई औषधिय गुणों का खजाना है उन्हें स्थापित कर सकेंगे।
              राज्य शिक्षक संघ म.प्र. के महासचिव दिनेश शुक्ला ने बताया कि हमारे संकल्प को लेकर एक प्रतिनिधिमण्डल जिसमें रामेश्वर डांगी, भगवती शर्मा, नेपालसिंह राणावत, चन्द्रप्रकाश जैन ने मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री ऋषव गुप्ता से भेंटकर वर्षा ऋतु में चिन्हित स्थानों पर पौधारोपण उनके मार्गदर्शन में करने का अनुरोध किया जिसें श्री गुप्ता ने स्वीकृति प्रदान की। साथ ही जिाल प्रशासन मंदसौर एवं जिला पंचायत मंदसौर द्वारा जंगल व विभिन्न विलुप्त की कगार पर जो किस्में है उन्हें व आसानी से उपलब्ध बीज जिसमें नीम, जामुन, पीपल, करंज, ईमली सहित अनेक प्रजातियों के बीजों को लेकर ‘‘सीड्स बाल’’ अभियान की शुरूआत की गई है जिसमें मिट्टी व कम्पोस्टर (जैव उर्वरक) का मिश्रण बनाकर मिट्टी को गिलाकर छोटी-छोटी गेंद (बाल) बनाते समय उनमें इन बीजों को रखेगे व कुछ समय बाल को सुरक्षित रखकर वर्षा ऋतु में झाड़ियों में फेंक देंगे ताकि उन बाल में सुरक्षित बीज अनुकूल परिस्थितियों अर्थात नमी सोखकर अंकुरित होंगे तथा वह धीरे-धीरे पौधों व पेड़ में परिणित हो जावेंगे जिनकी सुरक्षा स्वयं वे झाड़ियां ही कर लेगी। इस कार्य में अधिक रूपयों का खर्चा भी नहीं होता है। श्री गुप्ता ने उक्त कार्य में शिक्षा विभाग सहित आमजन समूह से सहभागिता करने की अपेक्षा की है। राज्य शिक्षक संघ ने अपनी सहमति दी है। अंत में मंदसौर जिले में जिन विकासखण्डों में अध्यापकों के सातवें वेतनमान के एरियर्स की दूसरी किश्त के भुगतान का मुख्य कार्यपालन अधिकारी महोदय से निवेदन किया जिस पर आपने जिला शिक्षा अधिकारी महोदय से चर्चा की व आश्वस्त किया कि जिले में शीध्र भुगतान हेतु निर्देश प्रसारित करेंगे। उक्त जानकारी नेपालसिंह राणावत ने दी।