रिमझिम बारिश से खरीदी केंद्रों पर खुले में रखा बाजरा, धान और ज्‍वार की फसल भीगी

भिण्‍ड से डॉ.रवि शर्मा

भिंड १७ नवंबर ;अभी तक; जिले में खरीफ फसलो के समर्थन मूल्‍य के लिए बनाए खरीदी केंद्रों पर बारिश के कारण जलभराव हो गया है। पानी भर जाने से जहां अधिकांश केंदों पर अनाज की बोरियां भीग गई हैं, वहीं प्रशासन ने अब खरीदी स्‍थगित करने के निर्देश जारी किए है। पहले ज्‍वार , बाजरा और धान का मोस्‍चर सुखाया जाएगा, इसके बाद उठाव करके पूरा अनाज गोदामों में रखा जाएगा। इस दौरान मंगलवार तक सभी खरीदी केंद्रों पर तौल बंद रहेगी। अनाज का उठाव होने के पश्‍चात ही प्रशासन के आदेश पर फिर से तौल शुरू की जाएगी। ऐसे किसानों के सामने समस्‍या यह है कि बाजरा की खरीदी 21 नवंबर तक की जाएगी, अगर तारीख नही बढाई तो पहले से वेटिंग में चल रहे किसानों ही केवल अनाज तुल पाएगा। बाकी किसान मैसेज मिलने के बाद भी अनाज नही बेच पाएंगे।

बता दें कि रविवार दोपहर तीन बजे से रुक –रुककर हो रही बारिश के कारण जिले में ज्‍वार-बाजरा के लिए बनाए 20 केंद्रों में पानी भर गया है। वहीं धान के 6 केंद्र भी प्रभावित हुए है। विगत दिनों एसडीएम उदयसिंह सिकरवार ने पिथनपुरा केद्र का निरीक्षण कर अनाज का उठाव करने के निर्देश दिए थे। केद्रों पर 31 अक्‍टूबर से खरीदी का कार्य प्रारंभ है। ऐसे में 15 दिन गुजर जाने के बाद भी केंद्र पर हजारों बोरियां खुले में रखी है। रविवार की रात हुई बारिश में सभी केंद्रों पर अनाज भीगा है। पहले बोरियों को खोलकर मोस्‍चर सुखाया जाएगा, जिसके बाद ही खरीदी प्रारंभ की जाएगी। दो दिन तौल रुकने से किसानों की समस्‍या बढ गई है।

Related Articles

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *