रिश्वत नहीं मिलने पर धान रिजेक्ट कर रहे सर्वेयर   एक के बाद एक, पांच ट्रक रिजेक्ट तो भड़के धान किसान

7:42 pm or December 26, 2021
मंडला संवाददाता
मंडला १६ दिसंबर ;अभी तक;  जिले की गोदामो में स्थित खरीदी केन्द्रों में धान की जांच के लिए सर्वेयर नियुक्त किए गए हैं। धान खरीदी के लिए सर्वेयर पहले जांच करते हैं जो भी कमी होती है उसे दूर कर तुलाई करवा रहे हैं। लेकिन दूसरे खरीदी केन्द्रों में सर्वेयर नियुक्त नहीं है। खरीदी केन्द्र प्रभारी ही धान को हरी झंडी दिखाने के बाद तौल करवा रहे हैं। जब परिवहन के जरिए धान गोदाम पहुंचती है तो वहां सर्वेयर धान को अमानक करार देकर वापस करा रहे हैं। जिससे किसानों में भी आक्रोश देखने को मिल रहा है। डिठौरी खरीदी केन्द्र में जब धान से भरा ट्रक वापस खरीदी केन्द्र पहुंचा तो किसानो ने जमकर हंगामा किया। वहां उपस्थित किसानों की माने तो सर्वेयर ने पैसों की मांग पूरी नहीं होने पर धान को अमानक बताकर वापस कर दिया। डिठौरी उपार्जन केन्द्र से ट्रक में 840 बोरी धान का परिवहन मोहनटोला स्थित स्थानीय राइस मिल में किया गया था। किसानो के अनुसार सर्वेयर ने धान रिजेक्ट का कारण रुपए की डिमांड पूरी नहीं करना बता रहा था।
                      जब धान से भरा ट्रक खरीदी केन्द्र डिठौरी वापस पहुंचा तो किसानों ने हंगामा शुरू कर दिया। किसानों का कहना है कि वे लगभग एक सप्ताह से परेशान हैं क्योंकि उनकी धान की तौल नहीं हो रही थी। बताया गया कि बारदानों की कमी है। अब जबकि धान से भरा ट्रक वापस भेजा गया तो फिर से तौल बाधित होगी। अपनी धान की रखवाली करते किसानों के लिए यह बेहद परेशानी का सबब है कि खरीदी केंद्र में धान पांच दिन से रखी है और तौल नहीं हो रही है। डिठौरी भेजे गए ट्रक में एक किसान की लगभग पांच सौ बोरी धान थी। उक्त किसान से ट्रक वापसी का भाड़ा देने का दबाव जाने लगा और भाड़े के लिए 18 हजार रुपयों की मांग की गई।
मानक स्तर पर खरी मिली धान
                      किसानो ने तत्काल नागरिक आपूर्ति और खाद्य विभाग के अधिकारियों से शिकायत कर दी। अधिकारी सर्वेयर लेकर डिठौरी उपार्जन केन्द्र पहुंचे जहां उक्त धान का परीक्षण कराया जिस पर धान मानक स्तर की पाई गई। जिसका अधिकारियों ने पंचनामा बनाया और किसानों को बताया धान मानक स्तर की है। जिसे रिजेक्ट नहीं किया जा सकता है। अधिकारियों ने सर्वेयर पर उचित कार्रवाई करने का आश्वासन भी दिया।
 अंजनियां में भी 5 ट्रक रिजेक्ट
                          जिले के अंजनियां क्षेत्र में दो खरीदी केन्द्र बनाए गए हैं। पुराने हाईस्कूल मैदान में खरीदी की जा रही है। यहां परिवहन की रफ्तार बहुत धीमी है। जगह न होने के कारण केन्द्र प्रभारी ने खरीदी बंद कर दी थी। किसानो के हंगामे के बाद खरीदी शुरू की गई है। यहां के किसानो ने बताया कि केन्द्र में अब तक 5 ट्रक को गोदाम से वापस भेज दिया गया है। जब लगातार ट्रक वापस आने लगे तो केन्द्र प्रभारी ने खरीदी ही बंद कर दी। प्रभारी का कहना है कि जब गोदाम में ही अमानक धान या फटे बारदाने का हवाला देकर वापस भेजा जाएगा तो खरीदकर धान कहां रखेंगे। अधिकतर खरीदी केन्द्रो में सर्वेयर द्वारा रुपयों की डिमांड की बात सामने आ रही है।
जिला आपूर्ति अधिकारी टीआर अहिरवार ने बताया कि डिठौरी में किसानो की शिकायत के बाद अधिकारी पहुंचे थे, सैंपल लिए हैं व पंचनामा बनाया गया है। जिसकी भी लापरवाही होगी उस पर कार्रवाई की जाएगी।  सर्वेयर पैसे की डिमांड कर रहे हैं तो इसकी जानकारी ली जाएगा। दोषियों पर उचित कार्रवाई होगी।