रेत से भरी ट्रैक्टर ट्रालियों की धमा चौकडी नगर मे कभी भी हो सकता है बडा हादसा, आये दिन लगता है जाम

8:37 pm or September 30, 2022

दीपक शर्मा

पन्ना ३० सितम्बर ;अभी तक; जिले की सभी रेत खदानें बंद होने के बाद भी अवैध रेत उत्खनन और परिवहन थमने का नाम नहीं ले रहा वर्तमान में नवरात्रि का दौर चल रहा है इस दौरान सड़कों में सुरक्षा स्वच्छता और प्रकाश व्यवस्था के निर्देश दिए गए हैं, इसके बाद भी पन्ना शहर की सड़कों में भोर सवेरे से देर शाम तक बिना नंबर के ट्रैक्टर ट्रॉलियों में ओवरलोड रेत भर कर नाबालिग चालकों द्वारा चलाए जा रहे हैं, इन ट्रेक्टरों की धमाचौकड़ी से नगर वासियों में दुर्घटना का खतरा मंडरा रहा है, .

सुबह स्कूल समय में पन्ना नगर के उत्कृष्ट विद्यालय से लेकर गीता पेट्रोल पंप, इंद्रपुरी कॉलोनी टाउन हॉल, गांधी चौक के पास, आरामगंज हाउस, पावर हाउस चौराहा, केशव राजा पेट्रोल पंप, छंगे राजा पेट्रोल पंप, बीटीआई चौराहा, डायमंड चौराहा, बेनीसागर तिराहा इत्यादि स्थानों में दर्जनों की संख्या में रेत से ओवरलोड ट्रैक्टर ट्रॉलियों का जमावड़ा देखा जा सकता है, .

खनिज और राजस्व विभाग तथा पुलिस की सांठगांठ का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि खनिज अधिकारी रवि पटेल से जब इस संबंध में चर्चा की गई तो उनके द्वारा इन्हें वैध बताते हुए कहा गया कि यह छतरपुर के ठेकेदार से रेत खरीद कर यहां बेचने आते हैं, प्रतिदिन सैकड़ों ओवरलोड रेत से भरे ट्रैक्टरों की धमाचौकड़ी को अनदेखा कर बिना जांच के सफाई देना सवाल खड़े करता है, इस मामले में सफाई की नहीं बल्कि कार्रवाई की आवश्यकता है।

गौरतलब तथ्य यह भी है कि वर्तमान समय मे छतरपुर के डम्प से रेत लाने की बात खनिज अधिकारी द्वारा की जा रही है लेकिन छतरपुर के ठेकेदार को पन्ना जिले मे अवैध बैरियल लगाने की अनुमति किसके इशारे पर दी गई है तथा उक्त बैरियलो पर ट्रैक्टरो से वसूली कौन से नियम कानून के तहत की जा रही है यह बहुत बडा सवाल पैदा हो रहा है। खनिज मंत्री के जिले मे मनमाने ढंग से अधिकारीयों द्वारा अवैध रेत का परिवहन धडल्ले से कराया जा रहा है। जिससे खनिज मंत्री की छवि पर भी लगातार प्रश्न खडे हो रहें है। आखिर उनके द्वारा इस संबंध मे जिले के अधिकारीयों पर क्यो कार्यवाही नही की जा रही है।