लोकल फांर वोकल के खातिर दीपावली पर्व पर, बिक्री किये जा  रहे है इम्युनिटी बढ़ाने वाले हर्बल आयटम गिफ्ट पैकेट

मयंक शर्मा

खंडवा १४ नवंबर ;अभी तक;  दीपावली पर्व को लेकर जिले में  विभिन्ना कोआपरेटिव सोसायटी व समूह  हर्बल सामग्री के साथ ही गाय के गोबर से बने दीपक व कंडे तैयार कर विशेष गिफ्ट पैक के रूप में बिक्री की जा रही है। स्व सहायता समूह की महिलाओं द्वारा की गई इस पहल को भी काफी सराहना मिल रही है। इससे लोकल फॉर वोकल को भी बढ़ावा मिल रहा है।

दीपावली पर्व पर लक्ष्मी महापूजन दिवस कोरोना का असर इस कदर हाव रहा कि इस वर्ष कोरोना के संक्रमण से बचाव के लिए लोगों द्वारा अपने मित्रों व परिचित लोगों को इम्युनिटी बढ़ाने वाले आयटम गिफ्ट के तौर पर दिए जा रहे हैं। यह गिफ्ट वन विभाग द्वारा विशेष तौर पर वन समितियों से बनवाए गए हैं।

कुछ मीठा हो जाए के श्लोगन के साथ गिफट में  परंपरा अनुरूप मिठाई या ड्ायफुडस के स्थान पर  स्वास्थ्यवर्धक आयुर्वेदिक औषधि द्वारा इम्युनिटी बढ़ाने वाले आयटम गिफ्ट देने हेतु प्रेरित किया गया। संक्रमण से बचाव के लिए वन विभाग ने मौका देखकर गिफ्ट पैक तैयार कराये हैं

गिफ्ट पैक में शहद, च्यवनप्राश और स्वास्थ्यवर्धक औषधीय और हर्बल चूर्ण रखे गए हैं। वनोपज सहकारी संघ द्वारा सिविल लाइंस स्थित वन विभाग की संजीवनी केंद्र पर विशेष गिफ्ट पैक बिक्री के लिए उपलब्ध कराए गए हैं। इन्हें लोग खरीदकर त्योहार पर उपहार स्वरूप अपनों को भेंट करने में उत्सुकता दिखा रहे है।

संजीवनी केंद्र संचालक अरुण दुबे ने बताया कि युनिटी बढ़ाने वाले ये गिफ्ट लोग आम रूप से पसंद कर लोग खरीदी कर रहे है।  कैटेगरी में वर्गीकृत पैकेट में गिलोय चूर्ण, अश्वगंधा चूर्ण, कालमेघ चूर्ण, अर्जुन हर्बल चाय, वनीय शहद शामिल है।
श्री दुबे ने बताया कि दीपावली त्योहार पर वन विभाग द्वारा लांच इस स्कीम का प्रमुख उद्देश्य लोगों की इम्यूनिटी को बढ़ाना है ताकि लोगों की रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ सके।

उन्होने कहा कि  सहकारी समितियां और स्व सहायता समूह ने इस त्योहारी सीजन पर रोजगार के सांमानतर संदेश देने के साथ रोग से बचाव  के लिए लोगों को इम्यूनिटी बढ़ाने के प्रति जागरूक किया  जा रहा हेै।

Related Articles

Post your comments

Your email address will not be published. Required fields are marked *