वन विभाग की विसंगति पूर्ण बैक डेट मे स्थानान्तरण सूची हुई जारी, एक कर्मचारी का दो-दो स्थानो पर कर दिया स्थानान्तरण

9:12 pm or October 17, 2022

दीपक शर्मा

पन्ना १७ अक्टूबर ;अभी तक; मध्य प्रदेश सरकार द्वारा जिला स्तर से लेकर प्रदेश स्तर तक के कर्मचारीयों के स्थानान्तरण करने की छूट दी गई थी जिसमे अतिंम तारीख 5 अक्टूबर निर्धारित की गई थी लेकिन अनेक विभागो द्वारा बैक डेट मे स्थानान्तरण सूचीयां जारी की जा रही है तथा उक्त सूचीयों मे भारी विसंगतियां देखने को मिल रही है। पन्ना जिले मे वन विभाग द्वारा जिला स्तर पर वन कर्मचारीयों के स्थानान्तरण किये गये।

जारी की गई सूची मे लगभग 54 कर्मचारी शामिल हैं। जिसमे उपवन क्षेत्रपाल से लेकर वनरक्षको के स्थानान्तरण किये गयें है। लेकिन जारी की गई सूचीयों मे विसंगति पूर्ण ढंग से कर्मचारीयों के स्थानान्तरण किये गये है। बैक डेट मे जारी किये गये आदेश मे अनेक विषंगतियां सामने आई है। जिसमे एक कर्मचारी का दो बार स्थानान्तरण किया गया है। जिसमे रामखगेश पटेल वन रक्षक जो पन्ना टाईगर रिजर्व बीट गंगऊ रेन्ज हिनौता मे पदस्थ था उसका स्थानान्तरण उत्तर वन मंडल किया गया है। जो आदेश क्रमांक 146 की सूची मे क्रमांक 05 पर दर्ज है तथा उसी रामखगेश पटेल का नाम क्रमांक दस पर भी दर्ज हैं। इसके अलावा कर्मचारीयों के स्थानान्तरण किये गये है। उनमे अनेक स्थानो पर किसी अन्य को पदस्थ नही किया गया है तथा वह स्थान खाली है।

स्थानान्तरण सूची मे मनमाने ढंग से कर्मचारीयों की स्थानान्तरण किये गये है। अनेक कर्मचारी जो पन्द्रह वर्ष से एक ही स्थान पर जमें हुए है उनके स्थानान्तरण नही हुए हैं। उदाहरण के तौर पर प्रमोद शुक्ला जो लगभग 15 वर्ष से अधिक समय से टाईगर रिजर्व कार्यालय मे ही पदस्थ है तथा वहीं पर पदोन्नती भी ले चुके हैं इसी प्रकार दीपक यादव कर्णावती सेन्टर मे पदस्थ है। इनके अलावा गणेश सोनी दक्षिण वन मंडल कार्यालय मे पदस्थ है। इनका भी स्थानान्तरण नही किया गया है।