वैक्सीनेशन कार्य के लिए पूर्व सांसद हेमंत ने स्वास्थ्य विभाग को दी 10 बसे

मयंक भार्गव

बैतूल १५ सितम्बर ;अभी तक; सेवाभावी कार्यो, दान कर्म और जरूरतमंद की मदद के लिए हमेशा तत्पर रहने वाले पूर्व सांसद एवं पूर्व विधायक हेमंत खंडेलवाल अब जिला प्रशासन की मदद के लिए भी आगे आए है। जिले में चल रहे कोविड वैक्सीनेशन में मोबाइल टीम को लाने ले जाने के लिए बसो की आवश्यकता होने पर श्री खंडेलवाल ने आरडी पब्लिक स्कूल की दस बसे 30 सितंबर तक के लिए स्वास्थ्य महकमे को सौंप दी है। श्री खंडेलवाल ने सिर्फ स्कूल की बसे दी है बल्कि बस का स्टाफ के साथ ही बस में लगने वाले डीजल की व्यवस्था भी श्री खंडेलवाल द्वारा की जाएगी। स्वास्थ्य विभाग द्वारा जिले के आठ ब्लॉकों में उक्त बसों का उपयोग किया जाएगा।

आए दिन कई सेवाभावी कार्य करने के साथ ही जरूरतमंद की मदद के लिए हमेशा तत्पर रहने वाले पूर्व सांसद हेमंत खंडेलवाल द्वारा कोविड की दूसरी लहर में चलित अस्पताल के लिए अपने स्कूल की दो बसे लगभग एक माह के लिए सेवा भारती को नि:शुल्क देने के बाद अब स्वास्थ्य महकमे को टीकाकरण कार्य में तेजी लाने 10 बसे नि:शुल्क उपलब्ध करवाई है। बसों के संचालन का पूरा खर्च भी श्री खंडेलवाल द्वारा ही वहन किया जाएगा। स्वास्थ्य विभाग को दस बसे नि:शुल्क मिलने से टीकाकरण कार्य में तेजी आएगी।

इस संबंध में श्री खंडेलवाल ने बताया कि विगत दिनों हुई क्राइसेस मेनेजमेंट समिति की बैठक में कलेक्टर अमनबीर सिंह बैस ने टीकाकरण कार्य में तेजी लाने और 26 सितंबर तक सभी नागरिकों को वैक्सीन की प्रथम डोज लगाने के लिए जनसहयोग से बसे उपलब्ध करवाने की चर्चा की थी। बैठक में ही मैने आरडी पब्लिक स्कूल की दस बसे नि:शुल्क देने का आश्वासन दे दिया था। श्री खंडेलवाल ने बताया कि बसों से मोबाइल वैक्सीनेशन टीम को दूरस्त ग्रामीण अचंलों में भेजकर वैक्सीन लगाई जाएगी।
बसों का मेन्टेनेंस और बीमा करवा कर सौंपी बसे
श्री खंडेलवाल ने बताया पिछले देढ़ साल से स्कूल बंद रहने से स्कूल की सभी बसे खड़ी थी। जिला प्रशासन को दस बसे देने के लिए उन्होंने पिछले तीन चार दिनों में सभी बसों का मेंटनेंस करवाने के साथ ही इश्योरेंस भी करवाया। देढ़ साल तक बसो के नहीं चलने से बैटरी खराब हो गई थी जिससे सभी बस में नई बैटरी भी डलवाई। उसके बाद मंगलवार को बसे स्वास्थ्य विभाग को दे दी है। श्री खंडेलवाल ने बताया कि बसों के ड्रायवर, कंडेक्टर का वेतन देने के साथ ही बस में लगने वाले डीजल और अन्य सभी खर्च भी वे स्वयं वहन करेंगे। फिलहाल दस बसे 30 सितंबर तक के लिए दी है। इसके बाद आगे और आवश्यकता होने पर अधिक समय के लिए भी बसे दे देंगे।
बस मिलने से वैक्सीनेशन में आएगी तेजी
सीएमएचओ डॉ. एके तिवारी ने बताया कि फिलहाल स्वास्थ्य विभाग द्वारा 28 मोबाइल वैक्सीनेशन टीम वैक्सीनेशन कर रही है। इससे अधिक टीम के संचालन के लिए विभाग के पास संशाधन उपलब्ध नहीं थे। ऐसे में श्री खंडेलवाल द्वारा एक साथ दस बसें नि:शुल्क उपलब्ध करवाने से वैक्सीनेशन कार्य में तेजी आएगी। अब और अधिक मोबाइल टीम बनाकर दूरस्त ग्रामीण अंचलों और मजरे टोले तक मोबाइल टीम पहुंचकर वैक्सीनेशन करेगी। डॉ. तिवारी ने बताया कि श्री खंडेलवाल द्वारा उपलब्ध करवाई गई बसे बुधवार से 30 सितंबर तक संचालित की जाएगी। बैतूल, शाहपुर, भीमपुर ब्लॉक के लिए दो-दो बसे और चिचोली, प्रभातपट्टन, आमला और भैंसदेही ब्लॉक में एक-एक बस दे रहे है। इसके बाद प्रतिदिन आवश्यकता के अनुसार बसे संचालित की जाएगी। इसके अतिरिक्त और अधिक आवश्यकता होने पर जनसहयोग से संसाधन जुटाए जाएंगे। डॉ. तिवारी ने श्री खंडेलवाल द्वारा 10 बसे नि:शुल्क उपलब्ध करवाने पर उनकी प्रशंसा करते हुए आभार व्यक्त किया है।