व्यवस्थाए बेबस हो रही है 

महावीर अग्रवाल
मंदसौर  २९ अप्रैल ;अभी तक;  बीजेपी के पूर्व मंत्री एव वरिष्ठ नेता श्री कैलाश चावला ने अपने फेस बुक अकाउंट पर लिखा है की  लगता है व्यवस्थाये भी थक कर निढाल ओर बेबस हो रही है । महामारी अपने रौद्र रूप  बताने को मचल रही है। सब प्रयास बोने साबित होरहे है , राहे धुंधली होने लगी है। चारो तरफ परेशानी ही परेशानी के स्वर सुनाई पड़ रहे उसके बाद भी स्तिथि से लापरवाह लोग अभी भी घर मे रुकने को तैयार नही है । ईश्वर ही मालिक है अब हमारे देश का। नही सम्भले तो अंजाम इतना भयंकर होगा कि कल्पना करने में भी डर लगने लगा है।खुदा खेर करे।
                   देश मे मेडिकल इमरजेंसी लगाने की आवश्यकता महसूस होने लगी है। मुझे यह भी समझ नही आ रहा कि सुझाव  कितना उपयुक्त है पर बस अब ओर नही चलेगा  कुछ तो करना हो होगा।