शादी में 10 की इजाजत, पंगत में बैठे मिले 100 लोग, प्रशासन का दल पहुंचा,तो भगा हलवाई और टेंटवाला 

अरुण त्रिपाठी
रतलाम, 1 मई ;अभी तक; कोरोना काल में लॉक डाउन के चलते प्रशासन को गलत जानकारी देकर शादी में अधिक लोगो को बुलाया जा रहा है।  सैलाना क्षैत्र के गांव भीलो की खेड़ी में एक युवक की शादी के लिए प्रशासन ने 10 लोगों की इजाजत दी, लेकिन शादी वाले परिवार ने घराती-बरातियों की लाइन लगाकर पंगत करा दी। प्रशासन का दल पहुंचा तो वहां 100 से ज्यादा लोग मिले। दल के पहुँचते ही हलवाई और टेंट वाले भाग गए|
                एसडीएम कामिनी ठाकुर ने बताया की यह खुलासा तहसीलदार अरुण चंद्रवंशी को मौके पर भेजने पर हुआ। कुछ लोग शादी की अनुमति के लिए समय और तारीख गलत बताकर कार्यक्रम कर रहे है| भोजन का आमंत्रण पत्रिका में शाम का छपवाया, भोजन सुबह से दोपहर के बीच ही करा दिया। एक और मामला ग्राम करिया का है ,जहां पत्रिका में छपी तारीख पर टीम पहुंची,तो कोई नहीं मिला। दो दिन पहले ही कार्यक्रम हो चुका था। प्रशासन अब शपथ पत्र या स्वघोषणा पत्र भरवाकर अनुमति देने की तैयारी कर रहा है।
                  एसडीएम के अनुसार सैलाना के गांव भीलो की खेड़ी में गिरधारी डामर के लड़के की शादी 100 से ज्यादा लोगों को बैठाकर पंगत चल रही थी। तहसीलदार अरुण चंद्रवंशी गांव पहुंचे,तो हलवाई भाग गया। उन्हें मौके से घरेलू गैस सिलेंडर मिले,जिस पर गैस एजेंसी संचालक को नोटिस देकर कार्रवाई की जाएगी। इसी तरह इलेक्ट्रॉनिक सामान के बिल भी जब्त किए गए है। उन्होंने बताया अब यह व्यवस्था की जाएगी कि आयोजक अनुमति लेते समय शपथ पत्र प्रस्तुत करें। यदि निर्धारित समय पर या समय के पहले विवाह किया, तो उस पर भी गलत जानकारी और प्रशासन को गुमराह करने की कार्रवाई की जाएगी।