शासन समाजसेवियो को सहयोगी मानकर आॅक्सीजन के लिये अनुमति प्रदान करे-श्री शेख

महावीर अग्रवाल
मंदसौर ४ मई ;अभी तक;  लगातार मंदसौर जिले की कोरोना काल में स्वास्थ्य सेवाये बुरी तरह से चरमरा गयी है। तमाम प्रयासो के बावजुद प्रशासन कोरोना से पीडित मरिज एवं परिजनो को सबसे जरूरी आॅक्सीजन की आपूर्ति नही कर पा रहा है। बिगडते हालात में मंदसौर के समाजसेवियो ने स्थिति को संभाला और निःशुल्क आॅक्सीजन गुजरात, एवं राजस्थान से लाकर निजी चिकित्सालयो एवं नागरिको को उपलब्ध करवा रहे थे किन्तु प्रशासन द्वारा पिछले तीन दिनो से समाजसेवियो को आॅक्सीजन लाने हेतु परमिट नही दिये जाने से स्थिति लगातार बिगडती जा रही है। खासकर होम आईसोलेशन में इलाज करवा रहे मरिज एवं उनके परिजन आॅक्सीजन के लिये भटकने पर मजबूर है। ऐसे हालात में पुनः समाजसेवियो को आॅक्सीजन लाने के लिये प्रशासन अनुमति प्रदान करे।
पूर्व नपाध्यक्ष एवं शहर ब्लाॅक कांग्रेस अध्यक्ष मोहम्मद हनीफ शेख ने मंदसौर जिला प्रशासन से पुनः समाजसेवियो को आॅक्सीजन लाने एवं उपलब्ध करवाने की अनुमति देने का आग्रह किया है। उन्होनें कहा कि जिला प्रशासन अब तक तमाम प्रयासो के बावजुद सभी मरिजो को पर्याप्त आॅक्सीजन उपलब्ध नही करवा पाया है, इस बीच मंदसौर के समाजसेवियो एवं उनकी टीम ने निजी चिकित्सालयो एवं  होम आईसोलेशन में इलाज करवा रहे मरिजो को स्वयं के खर्चे पर आॅक्सीजन लाकर निःशुल्क उपलब्ध करवाकर मिसाल प्रस्तुत की। श्री शेख ने पिछले तीन दिनो से मंदसौर के समाजसेवियो को आॅक्सीजन लाने हेतु परमिट नही देने पर दुख प्रकट करते हुये कहा कि सरकार एवं प्रशासन लगातार जनसहयोग की दरकार कर रहा है ऐसे में समाजसेवी अपने खर्चे निःशुल्क उपलब्ध करवाकर प्रशासन की काफी मदद कर रहे है।
श्री शेख ने जिला कलेक्टर श्री मनोज पुष्प से समाजसेवियो के कार्यो में सहयोग प्रदान करते हुये उन्हें पुनः आॅक्सीजन लाने हेतु अनुमति जारी करने का आग्रह करते हुये कहा कि प्रशासन चाहे तो अपनी देखरेख में समाजसेवियो से आॅक्सीजन संबंधी सहयोग ले सकता है, संकट की खडी में दानदाताओ एवं समाजसेवियो को प्रशासन सहयोग की दृष्टी से देखते हुये मानवता पर आये संकट में समन्वय की भावना से कार्य करे।