शिक्षकों की भर्ती याचिका के अंतिम निर्णय के अधीन हाईकोर्ट ने अनावेदकों को नोटिस जारी कर मांगा जवाब

8:44 pm or January 13, 2023
सिद्धार्थ पांडेय
जबलपुर १३ जनवरी ;अभी तक;  मध्यप्रदेश हाईकोर्ट ने जीव विज्ञान विषय की उच्च माध्यमिक शिक्षकों की भर्ती याचिका के अंतिम निर्णय के अधीन कर दी है। जस्टिस विवेक अग्रवाल की एकलपीठ ने प्रमुख्य सचिव शिक्षा विभाग, प्रमुख सचिव आदिम जति कल्याण विभाग, कमिश्नर डीपीआई, कमिश्नर आदिम जाति विभाग नोटिस जारी कर जवाब पेश करने के निर्देश दिए।
                               प्रदीप अहिरवार की ओर से अधिवक्ता रामेश्वर सिंह ठाकुर एवं अंजनी कोरी ने पक्ष रखा। उन्होंने बताया कि 2018 मे शिक्षक पत्रता परीक्षा के बाद एनसीटीई के प्रावधानों के विरुद्ध नियम बनाकर संबंधित विषय में द्वितीय श्रेणी मे उत्तीर्ण की पात्रता रखी। जबकि ट्रायबल विभाग एवं एनसीटीई के नियम स्पष्ट हैं कि 2007 के रेग्युलेशन के तहत अभ्यर्थी को बीएड डिग्री तथा संबंधित विषय मे उत्तीर्ण होना चाहिए। याचिकाकर्ता द्वारा वर्ष 2000 में जीव विज्ञान विषय में एमएससी 46 प्रतिशत के साथ उत्तीर्ण की तथा 2007 में बीएड परीक्षा पास की। इसके बाद वर्ष 2018 की पात्रता परीक्षा उत्तीर्ण की। विज्ञान विषय में उसका चयन उच्च शिक्षक के रूप में हुआ। चयन के उपरांत डीपीआई द्वारा याचिकाकर्ता की नियुक्ति यह कहते हुए निरस्त कर दी संबंधित विषय में वह द्वितीय श्रेणी मे उत्तीर्ण नहीं है।