शिवना के गंदे नाले रोकने एवं चंबल शिवना के ठेकेदार पर कार्यवाही के संबंध में सुशासन भवन में एक बैठक आयोजित की जाए 

महावीर अग्रवाल
मन्दसौर १८ जून ;अभी तक;  मंदसौर की जनता लगातार पुकार-पुकार के कह रही है कि हमारे जल स्त्रोतों की ओर ध्यान दिया जाए। जागरूक लोगों द्वारा उसके लिए आंदोलन भी किया जा रहा है, जल सत्याग्रह तक किया गया लेकिन हमारे जागरूक जनप्रतिनिधियों का शहर कहे जाने वाला मंदसौर जहां पर सबसे ज्यादा जनप्रतिनिधि निवास करते हैं और प्रशासन का अमला भी पूरा मंदसौर में ऑफिसियल निवास है उसके बाद भी जल संवर्धन और वृक्षारोपण को किये जाने वाले बड़े-बड़े दावे खोखले साबित हो रहे है। गंदगी का साम्राज्य बन चुकी शिवना की और हमारे लोकप्रिय जनप्रतिनिधियों का ध्यान ही नहीं है। हमारे लोग भी जनप्रतिनिधि के सम्मान में कम कसीदे नहीं कस रहे। ऐसा लगता है जैसे कोई अपने घर से फंड उड़ा रहे हैं। जनता की नासमझी का ही तो परिणाम है कि आज शिवना की दुर्दशा का रूप हमें देखना पड़ रहा है। यदि जनता सही आईना दिखा देती तो शायद ऐसे हालत नहीं बनते।
निर्मल शिवना जन अभियान के कार्यकर्ता हरिशंकर शर्मा, सुनील बंसल, धनराज धनगर, सपाक्स पार्टी के जिलाध्यक्ष राहुल गांधी एवं राहुल मोटवानी, कमलेश सोनी, तरुण भाई लगातार अपने द्वारा इस आंदोलन की जोत को जलाए हुए हैं और देखने में आ रहा है कि जनता के कहने के बाद भी हमारे लोकप्रिय क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों में से किसी ने इतनी हिम्मत नहीं करी की जो शिवना की दुर्दशा करने वाले और भ्रष्टाचार की भेंट चढ़ गया चंबल योजना के बारे में एक बार भी सुशासन भवन में बैठक बुला लेते तो जनता को यह तो लग जाता कि जो भी भ्रष्टाचारी ठेकेदार है उसके खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। अब जनता के अंदर प्रश्न उठ रहा है कि इसमें कौन-कौन लिप्त हैं जो बैठक भी बुलाना पसंद नहीं कर रहे हमारे क्षेत्र के कांग्रेसी नेता भी और क्षेत्र के सामाजिक संगठन भी मौन होकर क्या देख रहे हैं। भगवान शिव की भक्ति करना तभी सार्थक होगा जब हम शिवना को साफ और स्वच्छ पूरे क्षेत्र के किसान आज चंबल के पानी की मांग कर रहे हैं और जनता मंदसौर की पानी के लिए तरस रही है। भगवान पशुपतिनाथ दुःखी हो रहे हैं कि मेरे आंचल की यह दुर्दशा गंदे नालों से करके यह लोग कभी सुख से नहीं रह सकेंगे।
हरिशंकर शर्मा ने बताया कि निर्मल शिवना के सभी कार्यकर्ता शीघ्र अपने इस दर्द के प्रति अभियान से राष्ट्रीय स्तर पर मंत्री श्री हरदीप सिंह डंग केे माध्यम से अवगत कराकर पहुंचाने में सहयोग प्रदान करेंगे। जनता को हाथ जोड़ने की इतनी आदत पड़ गई है केवल वह मान सम्मान करना ही जानती है सही आईना दिखाने में उसको डर और भय लगता है यही कारण रहा आज देश के अधिकांश छापामार कार्यवाहियों में केवल प्रशासनिक अधिकारियों को ही मुख्य बनाया जाता है। जिस दिन लोकतंत्र में हलफनामे के आधार पर संपत्तियों की जांच राजतंत्र की होने लगेगी यह देश बहुत जल्दी विश्व गुरु बन जाएगा। भ्रष्टाचार रगों में दौड़ रहा है भ्रष्टाचार के कारण ही हर योजना फैल हो रही है और देश में इन भ्रष्टाचारियों की बहुत बड़ी खोज बन चुकी है इसका अंत कब होगा कुछ पता नहीं। बड़े-बड़े दावे करने से अच्छा है जनता के द्वारा सही आईना दिखाया जाए। यह जानकारी राहुल गांधी जिला अध्यक्ष ने दी।