शिवराजजी का बस एक ही नारा है “झूठ बोलो, बार-बार बोलो, रोज बोलो और बोलते रहो”.. कमलनाथ

मयंक शर्मा
खंडवां २६ अक्टूबर ;अभी तक;  प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मंगलवार को अपने चुनाव प्रचार के
दौरान खंडवा लोकसभा क्षेत्र के बुरहानपुर और झिरन्या में जनसभा को
संबोधित करते हुये कहा कि जब अच्छा संविधान गलत लोगों के हाथ में चला
जाता है तो देश का नुकसान होता है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस और भाजपा
में यही अंतर है कि हमारी सभाओं में आज जो लोग आए हैं वह दिल से आए हुए
हैं और भाजपा में जो आते हैं वह सरकारी तरीके से लाये हुए होते हैं।
                 श्री नाथ ने कह कि भारत में कई जाति, कई भाषा, कई धर्म लेकिन हम सब आज एक
झंडे के नीचे खड़े हैं और यही जो जोड़ने की भारत की संस्कृति है, वहीं
कांग्रेस की भी संस्कृति है। बाबासाहेब ने हमें कैसा संविधान दिया, जिसका
आज विश्व भर में आदर होता है ,जिसने सभी वर्गों को जोड़ने का काम किया और
उसमें प्रावधान किया कि हमारा कमजोर वर्ग कैसे सुरक्षित रहे लेकिन जब
अच्छा संविधान गलत लोगों के हाथ में चला जाता है तो देश का नुकसान होता
है।
               कमलनाथ ने आगे कहा कि इन चुनावों से कोई सरकार बनने वाली ,बिगड़ने वाली
नहीं है लेकिन यह चुनाव देश में प्रदेश में एक संदेश देंगे। हमें महंगाई
को ध्यान रखना है ,किसानों की परेशानी को ध्यान रखना है ,नौजवानों की
बेरोजगारी को ध्यान रखना है और हमें मोदी और शिवराज जी के कानों में घंटी
बजाना है। वे बोले शिवराज जी के झूठ और झूठी घोषणाओं का घड़ा अब भर चुका
है।सिर्फ धन बल और प्रशासन का दुरुपयोग कर चुनाव जीतना चाहते हैं । हर
आदमी को बिकाऊ समझते हैं ,यह वोट को खरीदने में लगे हुए हैं लेकिन ध्यान
रख ले प्रशासन और पुलिस के वह अधिकारी जो निष्पक्ष काम नही करते हुए
,भाजपा के पक्ष में काम कर रहे हैं ,कल के बाद परसों भी आएगा ,परसों के
बाद तरसो भी आएगा।
                श्री नाथ ने कहा कि मै पुलिसकर्मियों से कहना चाहता हूं कि आपने जो शपथ
ली थी ,उस शपथ का सम्मान करें ,अपनी वर्दी की इज्जत रखें।शिवराज जी तो
कुछ दिन के मेहमान हैं ,इनके दबाव-प्रभाव में मत आइए ,इनकी चिंता मत
करिए। उन्होने कहा कि शिवराज जी ने 15 साल में 22 हजार  से अधिक झूठी
घोषणाएं कर दी।वे तो जहां नदी नहीं ,वहां पर भी पुल बनाने की घोषणा कर
देते हैं।शिवराज जी का एक ही नारा है “झूठ बोलो ,बार-बार बोलो और बोलते
रहो”।हमने कोरोना काल में देखा कि किस प्रकार इन्होंने 20 लाख करोड़ की
झूठी घोषणा की थी ,जिसका एक रुपया भी आज तक किसी को नहीं मिला।े
बुरहानपुर क्षेत्र में करीब 1650 लोगों की कोरोना से मृत्यु हुई खंडवा
क्षेत्र में करीब 4000 लोगों की कोरोना से मृत्यु हुई।सीएम नाटक ,नौटंकी
और भाषणों से कोरोना को भगाते रहे।हमारे प्रदेश में ढाई लाख से अधिक
मौतें हुई ,कई लोगों ने अपने परिजनों को ,रिश्तेदारों को खोया लेकिन यह
आंकड़े दबाते रहे ,छुपाते रहे ंफर्जी आंकड़े सामने लाते रहे ,जनता यह भूलने
वाली नहीं है।जनता महंगाई की मार ,महंगे पेट्रोल-डीजल-रसोई गैस को भी
भूलने वाली नहीं है।
                उन्होने कहा कि हमने 100 में 100 यूनिट बिजली दी ,किसानों का कर्ज माफ
किया ,सामाजिक सुरक्षा पेंशन की राशि बढ़ाई ,कन्या विवाह की राशि बढ़ाई
,1000 गौशाला बनवायी। हमारी नेता इंदिरा गांधी जी की सोच थी ,उन्होंने
आदिवासियों के लिए वन अधिकार कानून बनाया ,इसका फायदा आज तक आदिवासी
भाईयो को मिल रहा है।मेरी सरकार में हमने आदिवासी भाईयो के पट्टे की
व्यवस्था का सरलीकरण किया ,हम नहीं चाहते थे कि आदिवासी वर्ग पट्टों को
लेकर परेशान हो।
               श्री नाथ ने मंत्र से यहां तक कहा कि  30 तारीख को प्रदेश के ,क्षेत्र के
भविष्य को देखते हुए मतदान करना है। आप कमलनाथ का, कांग्रेस का साथ भले
मत देना पर सच्चाई का साथ जरूर देना। हम सब मिलकर विकास का नया इतिहास
,नया अध्याय लिखेंगे।
                इस अवसर पर कांग्रेस के प्रत्याशी राज नारायण सिंह, अरुण यादव,
महाराष्ट्र शासन के मंत्री विजय बट्टिवाल, सुनील केदार, उल्लास राव पवार,
असुरेंद्र सिंह शेरा, झूमा सोलंकी,मौजूद थी।
——-