श्री हनुमान प्राकट्योत्सव के लिये सजा बड़े बालाजी का दरबार

6:12 pm or October 21, 2022
महावीर अग्रवाल 
मन्दसौर २१ अक्टूबर ;अभी तक;  प्रतिवर्ष अनुसार इस वर्ष भी श्री बड़े बालाजी मंदिर पुराना बस स्टेंड मंदसौर पर श्री हनुमान प्राकट्योत्सव उत्सव (देव दिवाली) रूप चौदस, 23 अक्टूबर रविवार को मनाया जाएगा। जिसको लेकर तैयारियां जोर-शोर से जारी है। बड़े बालाजी के दरबार (मंदिर) को आकर्षक विद्युत सज्जा से सजाया वहीं बस स्टेण्ड क्षेत्र केसरिया पताकाओं से सज गया है।  रविवार को श्रीलंका के फूलों से भगवान बालाजी महाराज का आकर्षक श्रृंगार होगा तथा सायं 7 बजे भव्य शाही महाआरती की जाएगी।
                                आयोजन की जानकारी देते हुए मंदिर समिति के अध्यक्ष पं. दिलीप शर्मा, प्रवक्ता रवि ग्वाला ने बताया कि भगवान बालाजी महाराज के प्राकट्य उत्सव (देव दिवाली) रूप चौदस पर श्री बड़े बालाजी मंदिर पुराना बस स्टैंड मंदसौर पर भव्य शाही महाआरती में अजयमेरु के ढोल, धार के नगाड़े, उज्जैन के ढोल, कड़ाबिन, तोप द्वारा पुष्पवर्षा, कोटा बूंदी की शहनाई व  201 दीपक से सामूहिक महाआरती की जाएगी। बालाजी मंदिर परिसर मंदसौर के 101 ढोल व किशोर बैंड मास्टर किशोर एवं टीम द्वारा सुमधुर संगीत से आनंदित होगा । पूरा क्षेत्र भव्य रंगारंग आतिशबाजी से जगमगायेगा।
                                 भगवान श्री बड़े बालाजी महाराज के प्राकट्य उत्सव में सम्मिलित होने की अपील आयोजन समिति के अध्यक्ष पं. दिलीप शर्मा, विनोद रूनवाल, विनय दुबेला, जितेंद्र व्यास, अश्विनी कुमार नामदेव, सज्जनलाल खमेसरा, राजाराम तंवर, जीवनलाल गोसर, रूपलाल खींची, चौथमल शर्मा, हेमंत सुरा, मांगीलाल सोलंकी, विनोद सुराह, शिवशंकर सोलंकी, अनूप माहेश्वरी, महेंद्रसिंह सिसोदिया, कपिल सोलंकी, बबलू देवड़ा, कुलदीप दुबे, कचरमल जटिया, अनिल सुराह, ईश्वर सिंह चुंडावत, ओमप्रकाश सांवलिया, तुषार सोनी, प्रदीप मालवीय, अशोक परमार, हेमंत सिसोदिया आदि सदस्यों ने सभी बालाजी के भक्तो से भव्य शाही महाआरती में सम्मिलित होने की अपील की। उक्त जानकारी प्रवक्ता रवि ग्वाला ने दी।